comScore

8 नवंबर को सरकार का 'जश्न-ए-नोटबंदी', कांग्रेस मनाएगी काला दिवस

October 26th, 2017 14:11 IST
8 नवंबर को सरकार का 'जश्न-ए-नोटबंदी', कांग्रेस मनाएगी काला दिवस

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नोटबंदी की वर्षगांठ पर सब कुछ काला रहने वाला है। नोटबंदी का एक साल पूरा होने पर बीजेपी 8 नवंबर को 'काला धन विरोधी दिवस' मनाएगी, जबकि कांग्रेस ने इस दिन को काला दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने नोटबंदी के फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए कहा इस दिन भाजपा कार्यकर्ता पूरे देश में कार्यक्रम आयोजित कर नोटबंदी और इससे अर्थव्यवस्था को होने वाले लाभों के बारे में बताएंगे। जबकि, लखनऊ में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस की उप्र इकाई के अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा इस दिन जिस नाटकीय तरीके से पीएम नरेंद्र मोदी ने 8 बजे ऐलान किया कि रात 12 बजे से 500 और 1000 रुपए के नोट नहीं चलेंगे, उसने लोगों को बड़ी परेशानी में डाल दिया। इसकी वजह से सौ से अधिक लोगों की मौत हो गई।  

अर्थव्यवस्था के दो पिलर हैं जीएसटी व नोटबंदी
अरुण जेटली ने एक प्रेस काफ्रेंस में बताया कि पार्टी नेताओं को जिम्मेदारी दी जाएगी कि वे इस दिन कार्यक्रम आयोजित कर लोगों को नोटबंदी से होने वाले लाभों के बारे में बताएं। जेटली ने कहा सन 2014 में सत्ता में आने के बाद से ही भाजपा ने कालाधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त रुख अपनाया है। नोटबंदी भी उसी के तहत उठाया गया एक कदम है। उन्होंने कहा केंद्र सरकार ने एसआईटी की सिफारिशों के आधार पर कालाधन पर अंकुश लगाने का प्रयास किया। उन्होंने इस दिन को कांग्रेस द्वारा काला दिवस के रूप में मनाए जाने की निंदा करते हुए कहा कांग्रेस चुनावी फायदे के लिए लोगों का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने दावा किया कि देश की अर्थव्यवस्था क्रमश: विकास कर रही है। कर सुधार और नोटबंदी को देश की अर्थव्यवस्था के दो मजबूत आधार बताते हुए उन्होंने दावा किया कि हम सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। लोगों को किसी तरह के दुष्प्रचार से प्रभावित नहीं होना चाहते। 

भाजपा विरोधी दलों को जोड़ना चाहती है कांग्रेस 
कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष राज बब्बर ने लखनऊ में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा पीएम नरेंद्र मोदी ने सायं 8 बजे ऐलान किया कि रात 12 बजे के बाद 500 और 1000 के नोट नहीं चलेंगे। राज बब्बर ने कहा कि इतनी जल्दबाजी में किसी भी देश में नोटबंदी नहीं की गई। इससे लोगों को बहुत तकलीफ का सामना करना पड़ा, जबकि सौ से अधिक लोगों की मौत हो गई। उन्होंने कहा देश इसके लिए पीएम मोदी को कभी माफ नहीं करेगा। इससे पहले मंगलवार को कांग्रेस सांसद और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने नोटबंदी के ऐलान के एक साल पूरा होने पर आठ नवंबर को 'काला दिवस' के रूप मे मनाने का ऐलान किया था। इससे पहले मंगलवार को कांग्रेस सांसद और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने नोटबंदी के ऐलान का एक साल पूरा होने पर 8 नवंबर को 'काला दिवस' के रूप मे मनाने की घोषणा की थी। आजाद ने कहा था कि पीएम मोदी द्वारा की गई नोटबंदी 'सदी का सबसे बड़ा घोटाला' है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के कारण देश की अर्थव्यवस्था की कमर टूट गई। जबकि, बड़ी संख्या में नौकरियां चली गईं। आजाद ने जब यह घोषणा की उस समय तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओब्रायन और जदयू के शरद यादव भी मौजूद थे। कांग्रेस अपनी इस मुहिम से सभी भाजपा विरोधी दलों को जोड़ने का प्रयास कर रही है।

कमेंट करें
KzJVT