comScore
Dainik Bhaskar Hindi

चार सेलिब्रिटी शेयर कर रहे अपना बर्थडे, जानिए इनके बारे में खास बातें

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 07th, 2019 11:07 IST

4.4k
0
0
चार सेलिब्रिटी शेयर कर रहे अपना बर्थडे, जानिए इनके बारे में खास बातें

डिजिटल डेस्क, मुंबई। आज 7 जनवरी है। ये तारीख हम आपको इसलिए भी याद दिला रहे हैं। क्योंकि आज बॉलीवुड के कई सितारें अपना बर्थडे शेयर करते हैं। इनमें कुछ गुजरे जमाने के हैं तो कुछ आज के युवाओं की पही पसंद हैं। आपको जानकर हैरानी होगी आज 4 लोगों का बर्थडे हैं। एक्ट्रेस बिपाशा बसु, इरफान खान, सुप्रिया पाठक और रीना रॉय अपना बर्थडे शेयर कर रहे हैं। आज हम इन सभी के बारे में जानेंगे।
  
बिपाशा बसु    
बिपाशा बसु बॉलीवुड की जानी-मानी एक्ट्रेस हैं।आज वो अपना 39 वां जन्मदिन मना रही हैं। 7 जनवरी 1979 को जन्मीं बिपाशा ने 2016 में करण सिंह ग्रोवर से शादी की थी। बिपाशा करण के साथ अपनी शादीशुदा जिंदगी में खुश हैं, लेकिन शादी से पहले के उनके अफेयर हमेशा चर्चा में आ जाते हैं। बता दें कि जॉन अब्राहम और बिपाशा करीब 10 साल तक रिलेशन में रहे, इसके बाद दोनों का ब्रेकअप हो गया। फिल्म जिस्म की शूटिंग के दौरान इन दोनों का प्यार परवान चढ़ा था। दोनों के ब्रेकअप की वजह कभी सामने नहीं आई। जॉन के अलावा डिनो मोरिया, मिलिंद सोमन, सैफ अली खान, हरमन बवेजा आदि के साथ भी बिपाशा के अफेयर की खबरें रही हैं।

2002 में फिल्म 'जिस्म' की शूटिंग के दौरान बिपाशा और जॉन अब्राहम के बीच गजब की केमिस्ट्री देखने को मिली। इसी बीच दोनों में प्यार हुआ, प्यार का इजहार हुआ और फिर दोनों ने अपने अफेयर का ऐलान किया। जॉन और बिपाशा को बॉलीवुड का सुपर कपल माना जाता था, लेकिन 10 साल साथ रहने के बाद भी 2011 में दोनों का ब्रेकअप हो गया। जॉन और बिपाशा के अलग होने से इनके फैन्‍स का भी दिल टूटा था। ब्रेकअप से उबरने के बाद 2016 में बिपाशा ने एक्टर करण सिंह ग्रोवर से शादी कर ली है। 

इन सम्मानों से नवाजी गईं...
2011 में टाइम्स की ओर से कराए गए सर्वे 50 मोस्ट डिजायरेबल वुमन में बिपाशा आठवें स्थान पर रहीं। 2013 में उन्हें सातवां स्थान प्राप्त हुआ। यही नहीं 2005 और 2007 में यूके की ईस्टर्न आई मैगजीन ने बिपाशा को सेक्सिएस्ट वुमन इन एशिया के खिताब से नवाजा।


इरफान खान
7 जनवरी, 1967 को जन्में एक्टर इरफान खान राजस्थान के जयपुर की एक मुस्लिम फैमिली में पैदा हुए। इसके बाद उन्होंने अपनी बेसिक शिक्षा पूरी कर दिल्ली के नामी एक्टिंग कॉलेज नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एडमिशन ले लिया। वहां उन्होंने अभिनय की बारीकियां सीख उसे कड़ी मेहनत कर निखारा। उसके बाद वो मुंबई आ गए। 

शुरुआती दौर में किए ये टीवी सीरीयल्स में 
अपने करियर के शुरुआती दौर में इरफान खान ने कई टीवी शोज में अभिनय किया पर किसी ने नहीं सोचा होगा की वो आगे जा कर बॉलीवुड के इतने बड़े कलाकार बन जाएंगे। पहले इरफान नेशनल टीवी के 'शो चाणक्य', 'भारत एक खोज', 'सारा जहां हमारा', 'बनेगी अपनी बात' और 'चंद्रकांता' जैसे सीरीयल में नजर आया करते थे।

इरफान खान ने साल 1988 में रिलीज हुई फिल्म 'सलाम बाम्बे' से अभिनय की दुनिया में कदम रखा। ये फिल्म अकाडमी अवॉर्ड के नॉमिनेशन में भी सेलेक्ट हुई थी। वहीं फिल्म को बड़ी सराहना मिली, लेकिन इरफान अपनी जगह नहीं बना पाए। 

90 के दशक में इरफान ने फिल्म 'एक डॉक्टर की मौत' में अभिनय किया था जिसमें उन्हें किसी ने भी नोटिस नहीं किया। वहीं लंदन के रहने वाले एक निर्देशक आसिफ कपाड़िया की फिल्म 'द वॉरियर' में उन्हें काफी नोटिस किया गया था। मालूम हो इस फिल्म की स्क्रीनिंग कई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में हुई है। 

इरफान खान बॉलीवुड में 2003 से अपीयरेंस में आए वो भी उसी साल रिलीज हुई फिल्म 'हासिल' से। इस फिल्म में इरफान ने नेगेटिव रोल निभाया था, जिसके लिए उन्हें बेस्ट परफॉर्मेंस के फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजा गया। इसके बाद उन्हें कई नेगेटिव रोल ऑफर हुए। बाद में इरफान फिल्म 'मकबूल', 'आन', 'चॉकलेट', 'लाइफ इन अ मेट्रो', 'लंच बॉक्स', 'तलवार' और 'पीकू' में भी नजर आए और छा गए।

हॉलीवुड फिल्में कर विदेश में कमाया नाम
इरफान खान ने फेम पाने के लिए पहले तो खूब स्ट्रगल किया। वहीं उन्होंने भारत में तो अपनी एक्टिंग से लोगों को दीवाना बनाया ही पर बाद में हॉलीवुड फिल्में कर उन्होंने विदेश में भी अपनी अच्छी-खासी फैन फालोइंग बना ली। उन्होंने हॉलीवुड फिल्मों 'अ माइटी हार्ट', 'द नेमसेक', 'पार्टिशन', 'न्यूयॉर्क', 'आई लव यू', 'जुरासिक पार्क' और 'द अमेजिंग स्पाइडरमैन' में बेहतरीन अभिनय किया है। इरफान फिलहाल फिल्मों से दूर हैं और लंदन में कैंसर का इलाज करवा रहे हैं। उम्मीद की जा रही है कि वो मार्च 2019 तक भारत वापस लौट आएंगे। 


सुप्रिया पाठक 
सुप्रिया पाठक एक भारतीय अभिनेत्री और टीवी कलाकार हैं। वो छोटे पर्दे पर टीवी शो की हंसा पारेख के नाम से प्रसिद्ध हैं। सुप्रिया पाठक का जन्म 7 जनवरी 1961 को मुंबई में हुआ था। इनके पिता का नाम बलदेव पाठक है।  मां का नाम दिना पाठक हैं, जोकि एक अभिनेत्री और गुजराती थिएटर आर्टिस्ट हैं।  रत्ना पाठक की एक बहन हैं- रत्ना पाठक, जोकि भारतीय सिनेमा की उम्दा अभिनेत्री हैं। सुप्रिया पाठक की शादी फिल्म निर्देशक पंकज कपूर से हुईं है। सुप्रिया उनकी दूसरी पत्नी हैं।  इनका एक बेटा और बेटी हैं।  सना कपूर, रुहान कपूर। अभिनेता शाहिद कपूर इनके सौतले बेटे हैं। 

करियर
सुप्रिया ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 1981 में फिल्म कलयुग से बतौर सपोर्टिंग एक्ट्रेस की थी।  सुप्रिया को बड़े पर्दे से कुछ खास पहचान नहीं मिली, वो सिर्फ एक साइड रोल बन के रह गयीं।  इसके बाद उन्होंने अपने फिल्मी करियर से एक लंबा ब्रेक ले लिया।  11 साल बाद उन्होंने फिल्म सरकार से अपना कमबैक किया है।  सुप्रिया एक बेहद मंझी हुआ अदाकारा है ये उन्होंने संजय लीला भंसाली निर्देशित फिल्म रामलीला- गोलियों की रास लीला में साबित कर दिया।  इस फिल्म में दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह नजर आये थे। सुप्रिया को उनके इस फिल्म के किरदार के हर जगह प्रशंसा मिली।  इसके अलावा उन्हें इस फिल्म के लिए फिल्म फेयर के बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के अवार्ड से भी नवाजा गया। 

टीवी करियर 
जब सुप्रिया का फिल्मी करियर खत्म होने की कगार पर था, तब उन्होंने छोटे पर्दे की और रुख किया।  उन्होंने कई टेलीविजन शोज किये। सुप्रिया का अब तक सबसे प्रसिद्ध किरदार खिचड़ी की हंसा पारेख हैं।  आज भी लोग सुप्रिया को हंसा के नाम से ही बुलाते हैं।  


रीना रॉय
बॉलीवुड में 46 साल तक राज करने वाली एक्ट्रेस रीना रॉय का जन्म 7 जनवरी 1957  को हुआ। रीना रॉय आज अपना 62वां जन्मदिन सेलीब्रेट कर रही हैं। रीना रॉय बॉलीवुड की ऐसी अदाकारा है जिन्होंने लीड रोल से लेकर मां तक के सभी किरदारों को बड़ी स्क्रीन पर बखूबी निखाया। यहां तक कि उनका नाम अपने समय में हाईएस्ट पेड एक्ट्रेस की लिस्ट में भी शुमार है। रीना ने अपने करियर की शुरुआत 1972 में फिल्म 'जरूरत' से की थी। पैसों के लिए उन्होंने सेमी न्यूड सीन भी दिए हैं। उस वक्त फिल्मों में इंटीमेट सीन देना आम नहीं था, लेकिन रीना ने वो सब किया जो उस वक्त के लिए बहुत बड़ी बात थी। डेब्यू फिल्म 'जरूरत' में उन्होंने कई इंटीमेट सीन दिये। रीना ने साल 1972 में रिलीज इस फिल्म में डैनी डेन्जोंगपा और बाकी कलाकारों के साथ इंटीमेट सीन दिए। इस फिल्म के बाद से ही वो 'जरूरत गर्ल' के नाम से जानी जाने लगी।

साल 1976 में आई फिल्म 'कालीचरण' ने रीना रॉय को स्टार बना दिया। इस फिल्म में उनके अपोजिट शत्रुघ्न सिन्हा थे। इसके अलावा 'नागिन' (1976), 'जानी-दुश्मन' (1979), 'आशा' (1980), 'नसीब' (1980), 'बदले की आग' (1982), 'प्यासा सावन' (1982), 'हथकड़ी' (1982) समेत कई फिल्मों में रीना रॉय ने काम किया। फिल्मों और अपनी खूबसूरती के अलावा रीना की सबसे ज्यादा चर्चा उनके अफेयर की भी होती रही है। दरअसल रीना का शत्रुघ्न सिन्हा से बेहद प्यार था। इस रिश्ते को कभी तोड़ना नहीं चाहती थी ऐर पूरी शिद्दत से अपने रिश्ते को संभाले हुए थे। 

रीना रॉय और शत्रुघन सिन्हा की पहली मुलाकात फिल्म 1972 में फिल्म मिलाप के सेट पर हुई। इसके बाद दोनों ने कालीचरण फिल्म भी साथ की जिसके बाद वो शत्रुघन से काफी क्लोज आ गईं। शत्रुघन ने भी एक मैगजीन को दिए इंटरव्यू में शत्रुघन ने यह बात स्वीकार की है कि उनरा और रीना का रिश्ता रहा है। शत्रुघन ने कहा- 'रीना के साथ मेरा रिश्ता पर्सनल रहा है। लोग कहते हैं कि शादी के बाद मेरी भावनाएं रीना के लिए चेंज हो गईं। लेकिन दरअसल यह बढ़ गई। मैं खुशनसीब हूं कि रीना ने अपनी जिंदगी के 7 साल मुझे दिए हैं।'

रीना से 7 साल अफेयर होने के बाद शत्रुघन सिन्हा ने पूनम मीरचंदानी से शादी कर ली। अर्से बाद जब सोनाक्षी ने दबंग से डेब्यू किया तो उनका लुक रीना रॉय से काफी मिलता जुलता देख लोगों की यादें ताजा हो गईं और लोग तो यहां तक कहने लगे कि सोनाक्षी रीना रॉय की ही बेटी हैं, हालांकि रीना और सोनाक्षी दोनों ने इस बात को बकवास बताया है।शत्रुघन से अलग होने के बाद रीना ने पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहसिन खान से शादी कर ली। रीना के नाम पर पहले बॉक्स ऑफिस पर फिल्में चलती थीं, लेकिन रीना ने अपना करियर छोड़ मोहसिन से शादी की और सबकुछ छोड़ कर पाकिस्तान चली गईं। हालांकि यह रिश्ता लंबा नहीं चला और दोनों अलग हो गए।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download