comScore

वर्ल्ड पीस एन्ड फ्रेन्डशिप मिशन पर विदेश मंत्रालय का ब्रेक, गडकरी से मिले एसोसिएशन के सदस्य

January 11th, 2019 22:15 IST
वर्ल्ड पीस एन्ड फ्रेन्डशिप मिशन पर विदेश मंत्रालय का ब्रेक, गडकरी से मिले एसोसिएशन के सदस्य

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नागपुर एडवेन्चर एन्ड स्पोर्ट्स एसोसिएशन वर्ल्ड पीस एन्ड फ्रेन्डशिप मिशन (भारत से दक्षिण अफ्रीका) के तहत देश में शांति बनाए रखने की पहल पर काम कर रहा है। इसके लिए पाकिस्तान सहित 18 देशों के कुल 65 प्रतिनिधियों की एक टीम भी बनाई गई है, लेकिन विदेश मंत्रालय से आवश्यक मंजूरी नही मिल पाने के कारण मामला अधर में लटक गया है।

अंतर्राष्ट्रीय रोटरी क्लब के पदाधिकारी तथा संगठन के सचिव एवं टीम लीडर निलय बंड ने बताया कि उनके इस वर्ल्ड पीस एन्ड फ्रेन्डशिप मिशन को भारत सरकार का समर्थन प्राप्त है। इस लक्ष्य को आगे बढाने की मुहिम की शुरुआत हमने 2017 में कर दी थी। इसके लिए अभियान में शामिल पाकिस्तान के 7 लोगों को भारत आने की विदेश मंत्रालय और गृह मंत्रालय से मंजूरी भी मिल गई, लेकिन किन्ही कारणों से इस अभियान की शुरुआत नही हो सकी। इसके बाद अगले वर्ष यानी 2018 में हमने फिर से इस अभियान को लेकर विदेश मंत्रालय से अनुमति मांगी, लेकिन दूसरी बार विदेश मंत्रालय ने वही पाकिस्तान के 7 प्रतिनिधियों को भारत आने की अनुमति देने से इंकार कर दिया है।

बंड का कहना है कि जब तक पाकिस्तान के प्रतिनिधियों को भारत बुलाया नही जाता तब तक हमारे इस अभियान का मकसद पूरा नही हो सकता। लिहाजा इस संदर्भ में संगठन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर इस मामले में हस्तक्षेप करने की गुहार लगाई थी। इस पर प्रधानमंत्री कार्यालय ने विदेश मंत्रालय को आवश्यक कार्रवाई करने को कहा भी, लेकिन विदेश मंत्रालय से अब तक कोई जवाब प्राप्त नही हुआ है। असोसिएशन के पदाधिकारियों ने इसी मसले पर 9 दिसंबर को केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की है। गडकरी ने उन्हें आश्वस्त किया है कि वह इस मसले पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से बात करेंगे। 
 

कमेंट करें
sHiS3