comScore
Dainik Bhaskar Hindi

नौंवी के कमजोर छात्रों के लिए दो माह बाद भी शुरू नहीं हुआ ब्रिज कोर्स

BhaskarHindi.com | Last Modified - October 11th, 2018 20:10 IST

666
0
0
नौंवी के कमजोर छात्रों के लिए दो माह बाद भी शुरू नहीं हुआ ब्रिज कोर्स

डिजिटल डेस्क शहडोल। कक्षा 9वीं में प्रवेश लेने वाले कमजोर छात्रों के लिए कराए जाने वाले ब्रिज कोर्स संबंधी रिपोर्ट अभी तक पोर्टल पर अपलोड नहीं हुई है। जबकि दो माह से अधिक समय बीत चुका है। इस लापरवाही पर जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) पर कार्रवाई हो सकती है। लोक शिक्षण आयुक्त जयश्री कियावत ने 9 अक्टूबर को इस संबंध में कड़ा नोटिस जारी किया है। डीईओ को अपनी सफाई देने के लिए सात दिन का समय दिया गया है।

दरअसल, ब्रिज कोर्स का निरीक्षण कर विमर्श पोर्टल पर 10 अगस्त तक रिपोर्ट अपलोड करने की समयसीमा निर्धारित की गई थी, लेकिन निर्धारित अवधि में जिले की रिपोर्ट पोर्टल पर अपलोड नहीं की गई। इतना ही नहीं एक माह बाद भी इसको गंभीरता से नहीं लिया गया। 10 सितंबर को जिला शिक्षा अधिकारी उमेश धुर्वे को इसके लिए कारण बताओ नोटिस जारी हुआ था। इसमें सात दिन के भीतर जानकारी अपलोड करने के निर्देश दिए गए थे। पत्र में स्पष्ट रूप से कहा गया था कि वांछित जानकारी अपलोड नहीं होने पर डीईओ के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के लिए बाध्य होना पड़ेगा। अंतिम अवसर दिए जाने के बाद भी पोर्टल पर 9 अक्टूबर तक जिले के 87 फीसदी स्कूलों की भ्रमण रिपोर्ट ही प्रविष्ट की गई है।

87 फीसदी रिपोर्ट ही अपलोड
9 अक्टूबर को जारी नोटिस में आयुक्त ने कहा है कि निर्देशों का पालन न करना अनुशासनहीनता व कदाचार की श्रेणी में आता है। मप्र सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण व अपील) नियम 1966 के नियम-16 (चार) के अंतर्गत यह कारण बताओ नोटिस जारी किया जाता है कि उक्त अनुशासनहीनता व कदाचरण के लिए क्यों न आपकी दो वेतनवृद्धियां तत्काल प्रभाव से रोकी जाएं।

लिया गया था बेस लाइन टेस्ट
कक्षा आठवीं पास कर नौंवी में प्रवेश लेने वाले कमजोर छात्रों की दक्षता सुधारने के लिए ब्रिज कोर्स संचालित किया जाता है। इस साल जून माह में कम दक्षता वाले बच्चों का बेस लाइन टेस्ट लिया गया था। इसके बाद कमजोर बच्चों के दो ग्रुप बनाए गए थे। स्तर 3-5 और स्तर 6-8। इन बच्चों के लिए विशेष कक्षाएं लगाई गई थीं। इन कक्षाओं में हिन्दी, अंग्रेजी और गणित बढ़ाया गया था।

इनका कहना है
रिपोर्ट अपलोड हो रही है। चार-पांच स्कूल ही रह गए हैं। एक-दो दिन के भीतर 100 फीसदी रिपोर्ट अपलोड हो जाएगी
-उमेश धुर्वे, जिला शिक्षा अधिकारी

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर