comScore
Dainik Bhaskar Hindi

ब्रिटेन का ये स्कूल चाहता है हिजाब और रोजा रखने पर बैन

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 06th, 2018 16:08 IST

4.4k
0
0

डिजिटल डेस्क,लंदन। ब्रिटेन के एक स्कूल ने सरकार से बच्चों के हिजाब पहनने और रमजान के दौरान रोजा रखने पर रोक लगाने की मांग की है। स्कूल की मांग है कि 11 सितंबर 2018 से 11 साल तक की लड़कियों के हिजाब पहनने पर प्रतिबंध लगाया जाए। साथ ही स्कूल की मांग है कि रमजान के दौरान रोजे रखने पर भी बैन लगाया जाए। बता दें कि इस स्कूल में ज्यादातर भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश मूल के बच्चे पढ़ते हैं।
गौरतलब है कि पूर्वी लंदन के न्यूहैम स्थित सेंट स्टीफेंस ने 2016 में आठ साल तक की लड़कियों के हिजाब पर बैन लगाने के साथ देश का पहला स्कूल बन गया था। अब स्कूल ने सितंबर 2018 में  11 साल तक की लड़कियों के हिजाब पहनने पर बैन लगाने की मांग की है। इसके साथ ही स्कूल ने रमजान के दौरान स्कूल परिसर में रोजा रखने पर भी प्रतिबंध लगाने की मांग की है।

भारतीय मूल की नीना लाल हैं स्कूल की प्रिंसिपल
बता दें कि इस स्कूल की प्रिंसिपल भारतीय मूल की नीना लाल हैं। जिन्होंने मांग की है कि सरकार साफ दिशा-निर्देश जारी करे, ताकि इस मुद्दे पर अभिभावकों के साथ विवाद न हो।स्कूल के गवर्नर्स के चेयरमैन आरिफ का कहना है कि हम रोजा पर बैन नहीं लगाना चाहते,  बल्कि हम ये चाहते है कि बच्चे छुट्टी वाले दिन रोजा रखे। इसके पीछे का कारण बताते हुए उन्होंने कहा कि स्कूल परिसर में बच्चों की सुरक्षा और सेहत की जिम्मेदारी स्कूल की ही होती है। उन्होंने आगे कहा कि इस फैसले का कुछ पेरेंट्स ने विरोध किया है, लेकिन अधिकतर इस फैसले से खुश नजर आए हैं।

यूके शिक्षा विभाग के अनुसार उनकी शैक्षणिक नीतियां अलग नहीं हैं वो सभी के लिए एक ही हैं। शिक्षा विभाग ने अपने बयान में कहा है कि हमने यूनिफॉर्म को लेकर स्कूल को गाइडलाइंस जारी कर दी है और कहा है कि स्कूल को समानता एक्ट के तहत कानून कर्तव्यों को समझना चाहिए। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download