comScore

अच्छा लगा आप फैमिली के साथ आए : PM, ट्रूडो बोले- भारत भरोसेमंद दोस्त

September 06th, 2018 15:18 IST

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। एक हफ्ते के दौरे पर भारत आए कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो शुक्रवार को वापिस लौट रहे हैं। शुक्रवार को ट्रूडो अपनी फैमिली के साथ राष्ट्रपति भवन पहुंचे, जहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्रूडो का गले लगाकर स्वागत किया। इसके बाद पीएम मोदी और ट्रूडो के बीच दिल्ली में एक मीटिंग हुई। इस मीटिंग में भारत-कनाडा के बीच 6 समझौते हुए, जिसमें हायर एजुकेशन भी शामिल है। मीटिंग के बाद हैदराबाद कन्वेंशन में दोनों नेताओं ने ज्वॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि 'काफी लंबे समय से आपकी भारत यात्रा का इंतजार किया जा रहा था। हमें खुशी है कि आपने अपने पूरे परिवार के साथ भारत आए।'

दोनों देशों के बीच क्या हुए समझौते? 

शुक्रवार को दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो ने मुलाकात की। इस दौरान दोनों देशों के बीच 6 समझौतों पर सिग्नेचर हुए। दोनों देशों के बीच जो 6 समझौते हुए हैं, उनमें पहला इलेक्ट्रॉनिक्स, दूसरा पेट्रोलियम, तीसरा स्पोर्ट्स, चौथा कॉमर्स एंड इंडस्ट्रियल पॉलिसी, 5वां हायर एजुकेशन और 6वां साइंस, टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन पर हुआ। इसके बाद दोनों देशों के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जस्टिन ट्रूडो ने ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी ने क्या कहा? 

- पीएम मोदी ने कहा कि 'हम काफी लंबे समय से आपकी भारत यात्रा का इंतजार कर रहे थे। हमें खुशी है कि आप अपने पूरे परिवार के साथ भारत आए।'
- पीएम ने बताया कि 'हमने कई मुद्दों पर चर्चा की। आतंकवाद और उग्रवाद हमारे जैसे देशों के लिए खतरा है और इनसे लड़ने के लिए हमारा साथ आना बहुत जरूरी है।'
- उन्होंने बताया कि 'हायर एजुकेशन के लिए इंडियन स्टूडेंट्स के लिए कनाडा हमेशा पसंदीदा जगह रही है। कनाडा में 1 लाख 20 हजार इंडियन स्टूडेंट्स हैं। हम हायर एजुकेशन की बेहतरी के लिए और समझौते कर रहे हैं, जो इसमें एक्सचेंज को बढ़ाएगा।'
- पीएम मोदी ने कहा कि 'कनाडा एनर्जी के मामले में सुपर-पॉवर है और ये हमारी बढ़ती एनर्जी की डिमांड को पूरा कर सकती है।' 
- उन्होंने कहा कि 'हम दोनों ने नॉर्थ कोरिया और मालदीव की स्थिति पर भी चर्चा की और इन दोनों ही मुद्दों पर हमारे विचार एक समान हैं।'
- पीएम ने कहा कि 'हम कनाडा के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं और भारत के विकास में कनाडा की हिस्सेदारी चाहते हैं।'
- उन्होंने कहा कि 'धर्म का राजनीतिक उद्देश्य के लिए दुरुपयोग करने वालों को और बंटवारे की खाई खोदने वालों के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए। हमारे देशों की संप्रभुता, एकता और अखंडता को चुनौती देने वालों को भी बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।'

कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने क्या कहा? 

- ज्वॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि 'हम दोनों देश का न सिर्फ एक लंबा इतिहास है, बल्कि हमारे पास उन मूल्यों (वैल्यूज़) का समूह है, जो हम दोनों देशों के बीच नेचुरल फ्रेंडशिप को बढ़ाता है।' 
- ट्रूडो ने कहा कि 'कनाडा अपनी इकोनॉमी में डायवर्सिटी लाने की कोशिश करता है और बिजनेस को अपनी सीमाओं से परे करने के लिए नए मौकों की तलाश करता है।'
- उन्होंने कहा कि 'कमर्शियल को-ऑपरेशन में भारत न सिर्फ हमारा साथी है, बल्कि भरोसेमंद दोस्त भी है।'

पीएम मोदी ने किए ट्वीट

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को दो ट्वीट भी किए। अपने पहले ट्वीट में पीएम मोदी ने कहा कि 'मैं कल कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो से मुलाकात करूंगा और सभी क्षेत्रों में भारत-कनाडा के संबंधों को और मजबूत बनाने पर बात करूंगा।' अपने दूसरे ट्वीट में पीएम मोदी ने 2015 के कनाडा दौरे की एक फोटो शेयर करते हुए लिखा कि 'मुझे उम्मीद है कि जस्टिन ट्रूडो और उनके परिवार ने भारत दौरे का मजा लिया होगा। मैं उनके बच्चों जेवियस, एला-ग्रेस और हेड्रियन से मिलना चाहता हूं। ये मेरे 2015 कनाडा दौरे की फोटो है, जब मैं पहली बार पीएम ट्रूडो और उनकी बेटी एला ग्रेस से मिला था।'

ट्रूडो की वाइफ के साथ खालिस्तानी आतंकी

कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की वाइफ सोफी ट्रूडो की एक फोटो गुरुवार को सामने आई थी, जिसमें वो जसपाल अटवाल के साथ दिखाई दे रही थी।  ये जसपाल वही शख्स है, जो खालिस्तान सपोर्टर रहा है और इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन में एक्टिव रहा है। दरअसल, 20 फरवरी (मंगलवार) को मुंबई में एक इवेंट रखा गया था। इस इवेंट में ट्रूडो फैमिली समेत बॉलीवुड की कई हस्तियां भी शामिल हुई थी। इस इवेंट में कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो की वाइफ सोफी ट्रूडो और जसपाल अटवाल की एक फोटो ली गई थी। इसके साथ ही जसपाल कनाडाई कैबिनेट मिनिस्टर अमरजीत सोही भी एक फोटो में साथ दिखाई दे रहे हैं।

ट्रूडो भी है खालिस्तान सपोर्टर? 

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो पर भी खालिस्तान सपोर्टर होने के आरोप लगते रहे हैं। भारत में कनाडाई पीएम को नजरअंदाज करने के पीछे इसे भी एक वजह माना जा रहा है। मौजूदा कनाडाई पीएम के भारत दौरे पर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी खालिस्तानी सपोर्टरों के प्रति नरमी रखने के आरोप लगाते हुए उनसे मिलने से इनकार कर दिया था। हालांकि बाद में बुधवार (21 फरवरी) को अमरिंदर ने ट्रूडो के साथ एक होटल में 40 मिनट तक बात की थी। बताया जा रहा है कि इस मीटिंग में अमरिंदर सिंह ने ट्रूडो को 9 खालिस्तानी आतंकियों की लिस्ट सौंपकर उन पर कार्रवाई करने की मांग की है।

एक हफ्ते के दौरे पर हैं ट्रूडो

कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो अपनी वाइफ सोफी ट्रूडो समेत अपनी पूरी फैमिली के साथ एक हफ्ते के भारत दौरे पर आए हैं। कनाडाई पीएम का ये दौरा शनिवार (17 फरवरी) को मुंबई से शुरू हुआ। रविवार को वो आगरा पहुंचे, जहां उन्होंने पूरी फैमिली के साथ ताजमहल का दीदार पर किया। सोमवार को उन्होंने अहमदाबाद के साबरमीत आश्रम का दौरा किया। इसके बाद मंगलवार को ट्रूडो फैमिली एक बार फिर मुंबई पहुंची। जस्टिन ट्रूडो ने बुधवार को अमृतसर का दौरा किया, जहां उन्होंने स्वर्ण मंदिर में अपनी फैमिली के साथ माथा टेका। गुरुवार को कनाडाई पीएम अमृतसर से दिल्ली जाएंगे, जहां हाई कमीशन ने एक स्पेशल डिनर रखा है। इसके बाद शुक्रवार को ट्रूडो प्रधानमंत्री मोदी से भी मुलाकात कर सकते हैं और फिर यहीं से कनाडा लौट जाएंगे। 

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 41 | 23 April 2019 | 08:00 PM
CSK
v
SRH
M. A. Chidambaram Stadium, Chennai