comScore

कैथोलिक चर्च 'सेडलेक औसुएरी' क्यों है सबसे डरावना चर्च!

March 08th, 2018 14:30 IST

डिजिटल डेस्क।  आमतौर पर हमारी आंखों के सामने अगर अचानक कोई नर कंकाल आ जाये तो हम डर जाते है, लेकिन आप ये जानकर हैरान जाएंगे कि दुनिया में एक ऐसा चर्च है जो मरे हुये इंसानों की खोपड़ी और हड्डडियों से बना है। इस चर्च के बारे में कहा जाता है कि ये चर्च दुनिया का सबसे अनोखा और डरावना चर्च है।

यूं तो आपने बहुत सारे चर्च देखे होंगे लेकिन यह चर्च सबसे अलग है। ये चर्च चेक रिपब्लिक में बना एक रोमन कैथोलिक चर्च 'सडलेक औसुएरी' है। चेक रिपब्लिक में बना एक रोमन कैथोलिक चर्च 'सेडलेक औसुएरी' सबसे अलग है। 1278 में जेरुसलेम की पवित्र धरती से यहां मिट्टी लाई गई थी। लोगों की इच्छा थी कि मरने के बाद उन्हें पवित्र जगह ही दफनाया जाए। इसी कारण उन्हें इस चर्च में दफनाया गया और अब उनकी हड्डियों को इस जगह को सजाने में इस्तेमाल किया जाता है।

इसे डरावना चर्च इसलिए कहा जाता है, क्‍योंकि इस चर्च की सजावट इंसानी हड्डियों और खोपड़ियों से की गई है। इस चर्च को सजाने के लिए 70,000 कंकालों का इस्तेमाल किया गया है। ये इंसानी कंकाल प्‍लेग पीड़ितों और 15वीं शताब्‍दी के दौरान हुए युद्धों में मारे गए लोगों के हैं।  इस चर्च में छत से लेकर झूमर तक, सब इंसानों की हड्डियों से ही बनाए गए हैं। 

कैथोलिक चर्च 'सडलेक औसुएरी' के बारे में कहा जाता है कि जहां कुछ लोगों को यहां आकर डर लगता है वहीं कुछ लोगों को यहां बहुत शांति मिलती है। 
 

कमेंट करें
TZtln