comScore
Dainik Bhaskar Hindi

आलीशान जिंदगी जीने वाली हनीप्रीत का ऐसा हाल, देखिए तस्वीरें

BhaskarHindi.com | Last Modified - October 06th, 2017 16:42 IST

2.2k
0
0
आलीशान जिंदगी जीने वाली हनीप्रीत का ऐसा हाल, देखिए तस्वीरें

डिजिटल डेस्क, पंचकुला। पुलिस रिमांड पर भेजी गई हनीप्रीत की लॉकअप से एक्सक्लूसिव तस्वीर सामने आई है। इस फोटो में हनीप्रीत पुलिस लॉकअप में फर्श पर बिछी दरी पर बैठी दिखाई दे रही है। कभी आलीशान जिंदगी जीने वाली हनीप्रीत का डेरे में सिक्का चलता था, लेकिन आज वक्त ने ऐसी करवट ली कि वो अपनी बेगुनाही के लिए सबके सामने गिड़गिड़ा रही है। इस समय हनीप्रीत पंचकूला के सेक्टर 23 थाने के लॉकअप में बंद है। हरियाणा हाईकोर्ट ने बुधवार को हनीप्रीत को 6 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा है, जिसके बाद पुलिस उसे बठिंडा लेकर गई, जहां 38 दिनों तक हनीप्रीत छुपी हुई थी। 

पुलिस नार्को टेस्ट की तैयारी में
हरियाणा पुलिस हनीप्रीत के नार्को टेस्ट की तैयारी कर रही है। इससे पहले पंचकूला के पुलिस कमिश्नर एएस चावला ने खुलासा किया था कि हनीप्रीत पूछताछ में कोई सहयोग नहीं कर रही है। अगर वह ऐसा ही करती रही तो वे कोर्ट से उसकी रिमांड बढ़ाने के लिए अपील करेंगे और जरूरत पड़ी तो उसका नार्को टेस्ट भी कराएंगे। पुलिस को पता चला है कि फरारी के दौरान हनीप्रीत ने 17 सिम कार्ड इस्तेमाल किए, जिनमें तीन विदेशी सिम भी शामिल थे।

17 अगस्त को ही हो गई थी हिंसा की तैयारी
पुलिस तफ्तीश में पता चला है कि 25 अगस्त को पंचकूला कोर्ट का फैसला आने से हफ्ता भर पहले ही सिरसा के डेरा सच्चा सौदा में जबरदस्त हलचल थी। राम रहीम और उसके बेहद खास समर्थक बुरी तरह उलझन में थे। राम रहीम को बलात्कार के इल्जाम से बरी हो जाने की उम्मीद भी थी, तो जेल जाने का खौफ भी था। इस उलझन के दौरान 17 अगस्त को सिरसा में डेरे के अंदर एक मीटिंग बुलाई गई। ये मीटिंग किसी और ने नहीं, बल्कि हनीप्रीत ने बुलाई थी और यहीं 25 अगस्त की साजिश का ब्लूप्रिंट तैयार किया गया था।

पुलिस ने पूछताछ के बाद किया बड़ा खुलासा
पुलिस के मुताबिक हनीप्रीत ने हिंसा फैलाने के लिए डेरा समर्थकों के बीच सवा करोड़ रुपये बांटे थे। इस सवा करोड़ में से एक करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं जबकि 24 लाख एक आरोपी से बरामद हुए। हनीप्रीत के खिलाफ पुलिस को कई सबूत मिले हैं और कई सबूतों की तलाश है।

सिरसा में बैठकर तैयार किया गया पूरा प्लान

पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि 25 अगस्त को पंचकूला में जिस हिंसक वारदात को डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों ने अंजाम दिया था, उसका ब्लूप्रिंट डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय सिरसा में एक हफ्ता पहले आयोजित एक अहम बैठक में तैयार कर लिया गया था। पंचकूला पुलिस ने इस बैठक में शामिल गुरमीत राम रहीम के निजी सचिव राकेश कुमार अरोड़ा और राम रहीम के चीफ सिक्योरिटी ऑफिसर प्रीतम को पहले ही गिरफ्तार कर लिया है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें