comScore

प्रेस क्‍लब ऑफ इंडिया की बैठक में मोदी सरकार पर यूं गरजे वरिष्ठ पत्रकार

July 27th, 2017 14:05 IST
प्रेस क्‍लब ऑफ इंडिया की बैठक में मोदी सरकार पर यूं गरजे वरिष्ठ पत्रकार

टीम डिजिटल, नई दिल्ली. एनडीटीवी के को-फाउंडर प्रणय रॉय के घर पड़े सीबीआई छापे पर आज प्रेस क्‍लब ऑफ इंडिया की बैठक हुई जिसमें देश भर से वरिष्ठ पत्रकार शामिल हुए. इस दौरान मीडिया की जानी मानी हस्तियों ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला. वरिष्‍ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने कहा, 'मुझे लगता है कि वर्तमान माहौल में चुप रहना कोई विकल्‍प नहीं है. यह वो क्षण है जब हमें इतिहास में सही किनारे पर खड़ा होना होगा. वहीं भाजपा सरकार के पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरुण शौरी ने कहा कि मीडियाकर्मियों को केन्द्रीय मंत्रियों के कार्यक्रमों का बहिष्कार करना चाहिए. न्यूज चैनलों को अपने कार्यक्रम में मंत्रियों को नहीं बुलाना चाहिए। उन्होंने केन्द्र की मोदी सरकार पर दबाव की राजनीति करने का भी आरोप लगाया.

प्रख्यात न्यायविद फली नरीमन ने प्रणय रॉय के घर पड़े छापे को प्रेस और मीडिया की आजादी पर हमला बताया. वहीं वरिष्‍ठ पत्रकार ओम थानवी ने मीडिया के एक होने की जरूरत पर जोर दिया.

कार्यक्रम को एनडीटीवी के को-फाउंडर प्रणय रॉय ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि एनडीटीवी के ऊपर लगाये गये सारे आरोप पूरी तरह से झूठ और मनगढ़ंत है। सीबीआई छापे पर उन्होंने कहा कि हम किसी एजेंसी के खिलाफ नहीं लड़ रहे हैं. वो भारत की संस्‍थाएं हैं, लेकिन हम उन नेताओं के खिलाफ हैं जो इनका गलत इस्‍तेमाल कर रहे हैं.

गौरतलब है कि 6 जून को सीबीआई ने एनडीटीवी के को-फाउंडर प्रणय रॉय के दिल्ली और देहरादून स्थित ठिकानों पर छापे मारे थे। प्रणय रॉय और उनकी पत्नी पर 48 करोड़ रुपये की गड़बड़ी के आरोप के चलते यह छापे मारे गए थे.

कमेंट करें
kTlrX