comScore

जलसंकट निवारण की राशि देने महिलाओं ने मांगी भीख 

जलसंकट निवारण की राशि देने महिलाओं ने मांगी भीख 

डिजिटल डेस्क, चंद्रपुर। हर ग्रीष्मकाल में चंद्रपुर शहर के कुछ वार्डो में कृत्रिम जलसंकट छा जाता है। बालाजी वार्ड उन्ही में से एक है। यहां तीन साल से पानी की समस्या है। शनिवार को यहां के लोगों ने पार्षदों को बुला कर चौपाल लगाया था। इसमें समस्या का हल राशि के अभाव में न होने की असहायता पार्षदों ने जतायी इससे लोगों का गुस्सा फूट पड़ा । सैंकड़ों की संख्या में लोग, विशेष रूप से महिलाओं ने भीख मांग कर पालिका को राशि जुटा देने का स्वयंस्फूर्त निर्णय लिया और भीख मांगते-मांगते पालिका कार्यालय पर दस्तक दी। सीधे पालिका के उपायुक्त गजानन बोबडे के कक्ष में जाकर अपना रोष जताया। इस बीच रानी पाठक व गुंजन चोरडिया नामक बालिकाओं ने पालिका के टेबल पर भीख से जमा हुई कुछ राशि खाली कर दी। उपायुक्त बोबडे हक्का- बक्का होकर रह गए। मामले की दिनभर शहर में चर्चा चलती रही। पिछले 8 दिन से समस्या निवारण का आश्वासन देने वाले आयुक्त पर महिलाओं ने रोष जताया। 8 दिन पूर्व ही नागरिकों ने इस समस्या पर आयुक्त से चर्चा की थी। 

संतप्त महिलाओं का कहना है कि भीषण जलसमस्या पर स्थानीय पार्षद व पदाधिकारियों का ध्यानाकर्षण किया गया। प्रशासन को भी अवगत कराया। परंतु कोई राहत नहीं मिली। उधर बढ़ती धूप के साथ महिलाओं को पानी के बिना घर के काम करना व अपनी आवश्यकताओं को पूरा करते- करते पसीने छूट रहा है। इस समस्या की जानकारी देने वार्ड के कुछ प्रतिष्ठीत नागरिकों ने पालिका आयुक्त संजय काकडे व मनपा के जलापूर्ति ठेकेदार योगेश समरित से भेंट की थी। इस दौरान हुई चर्चा में मनपा आयुक्त काकडे ने नागरिकों को पूरी तरह से आश्वस्त कराते हुए बालाजी वार्ड की भीषण जलसमस्या का निवारण करने का ठोस आश्वासन दिया। परंतु 8 दिन बीत जाने के बाद भी कोई हलचल, कोई गतिविधि नहीं हुई। समस्या जस की तस है। नागरिकों की परेशानी में कोई कमी नहीं आयी है। इसका सीधा असर घर की महिलाओं पर पड़ रहा है। 

पाइप लाइन है वार्ड की मुख्य समस्या 
पाइप लाइन मुख्या समस्या बन गई है इसका कोई निवारण न होने से महिलाओं का गुस्सा शनिवार को फूट पड़ा। उन्होने स्वयंप्रेरणा से भीख मांगों आंदोलन शुरु किया। इसमें वार्ड की सैकड़ो महिलाएं, बच्चियां व नागरिक भी शामिल हुए। नारे लगाते हुए महिलाओं ने मनपा कार्यालय पर दस्तक दी। पालिका प्रशासन को निवेदन दिया गया। इस निवेदन के अनुसार, वार्ड की मुख्य पाईप लाईन से उत्खनन कर नई पाईप लाईन बिछाई जाए। पाइप लाइन नवीनीकरण के बाद तत्काल प्रभाव से सुचारु जलापूर्ति की जाए। 

तो अधिकारियों को चूडियां भेंट देंगे
संतप्त महिलाओं ने शनिवार के भीख मांगों आंदोलन दौरान प्रशासन को चेताया कि 8 दिन में यह मांग पूरी नहीं हुई तो पालिका के जोन अभियंता व ठेकेदार को चूड़ियां भेट करने का आंदोलन किया जाएगा। 

संपत्ति टैक्स का भी बहिष्कार करेंगे
पाइप लाइन के सुधार की मुख्य मांग को लेकर रोष जतानेवाली महिलाओं ने पालिका को चेताया है कि यदि पाइप लाइन का सुधार नहीं होता और नागरिकों को राहत नहीं मिलती तो आगामी एक साल का संपत्ति टैक्स वह नहीं भरेंगे। टैक्स का बहिष्कार करेंगे। इस आंदोलन में मनपा पार्षद विशाल निंबालकर, दानव, किशोर जोरगेवार, दिलीप पाठक, भारत, जितेंद्र चोरडिया, जोशी आदि शामिल हुए।

कमेंट करें
oyjpq