comScore

पटियाला हाउस कोर्ट ने कार्ति चिदंबरम को एक दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा

February 28th, 2018 21:27 IST

हाईलाइट

  • कांग्रेस के सीनियर लीडर और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को पटियाला हाउस कोर्ट ने 1 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।
  • कार्ति की ये गिरफ्तारी INX मीडिया से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग ( 3.5 करोड़ रुपए फंड ट्रांसफर )केस में हुई है। इन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) ने मई 2017 में कार्ति चिदंबरम के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत केस दर्ज किया था।
  • INX मीडिया कंपनी के मालिक पीटर मुखर्जी और इंद्राणी मुखर्जी हैं, जो अपनी बेटी शीना बोरा के मर्डर के आरोप में जेल में बंद हैं।

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। कांग्रेस के सीनियर लीडर और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को पटियाला हाउस कोर्ट ने 1 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।CBI ने बुधवार सुबह कार्ति चिदम्बरम को चेन्नई एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया था। कार्ति बुधवार सुबह ही लंदन से लौटे थे। कार्ति की ये गिरफ्तारी INX मीडिया से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में हुई है। बताया जा रहा है कि कार्ति को इसलिए गिरफ्तार किया गया है कि क्योंकि वो इस केस की जांच में सहयोग नहीं कर रहे थे। बता दें कि इस केस में एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) ने कार्ति के चार्टेड अकाउंटेंट (CA) एस भास्करन को गिरफ्तार किया था। 

कार्ति पर क्या हैं आरोप? 

इन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) ने मई 2017 में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम के खिलाफ मई 2017 में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत केस दर्ज किया था। कार्ति पर आरोप है कि उन्होंने अपने पिता के पॉवर का गलत इस्तेमाल कर कंपनियों को फायदा पहुंचाया और उसके एवज में फंड लिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कार्ति ने साल 2007 में मुंबई की INX मीडिया कंपनी को फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (FIPB) की मंजूरी दिलाने में मदद की। उस दौरान उनके पिता पी. चिदंबरम यूपीए सरकार में वित्त मंत्री थे। FIPB की मंजूरी दिलाने के बदले में कार्ति को INX मीडिया ने कथित तौर पर 3.5 करोड़ रुपए का फंड ट्रांसफर किया। बता दें कि INX मीडिया कंपनी के मालिक पीटर मुखर्जी और इंद्राणी मुखर्जी हैं, जो अपनी बेटी शीना बोरा के मर्डर के आरोप में जेल में बंद हैं।

14 दिन की कस्टडी में हैं भास्करन

कार्ति चिदंबरम के चार्टेड अकाउंटेंट (CA) एस भास्करन को ED ने 16 फरवरी को दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल से गिरफ्तार किया था। जिसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया। भास्करन को भी INX मीडिया से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार किया था। कोर्ट ने भास्करन को 14 दिन की ज्यूडिशियल कस्टडी पर भेज दिया था। 

कमेंट करें
TmA8L