comScore
Dainik Bhaskar Hindi

विधायक के चाचा की दबंगई, युवक को पीट-पीटकर किया घायल

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 12th, 2019 23:12 IST

327
0
0
विधायक के चाचा की दबंगई, युवक को पीट-पीटकर किया घायल

डिजिटल डेस्क, छतरपुर। थाना क्षेत्र गढ़ीमलहरा के गरेला तिराहा में सोमवार की शाम एक युवक के साथ मारपीट की गई। मारपीट में घायल युवक का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। घायल युवक ने महाराजपुर विधायक नीरज दीक्षित के चाचा पर मारपीट का आरोप लगाते हुए बताया कि वे एक मामले में राजीनामा के लिए दवाब बना रहे हैं इसी चलते मारपीट की गई है।

क्या है मामला
गढ़ीमलहरा थाना क्षेत्र के ऊर्दमऊ गांव का बंदुआ प्रजापति पिता ननुआ प्रजापति (47) पर सोमवार की शाम प्राणघातक हमला किया गया। जिला अस्पताल में इलाजरत बंदुआ प्रजापति ने बताया कि रविवार को वह एक कार्यक्रम में शामिल होने महाराजपुर गया था। सोमवार को जब वह महाराजपुर से अपने गांव ऊर्दमऊ जा रहा था तो गरेला तिराहा पर उसे ऊर्दमऊ निवासी प्रदीप दीक्षित ने रोक लिया।

प्रदीप ने कहा कि विनोद दीक्षित के खिलाफ जो एससीएसटी एक्ट का मामला दर्ज कराया है, उसमें राजीनामा कर लो, जब बंदुआ प्रजापति ने राजीनामा करने से इंकार किया तो उन्होंने लोहे की राड, पाइप से उस पर हमला कर दिया। इस हमले में घायल बंदुआ को प्राथमिक उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गढ़ीमलहरा ले जाया गया, यहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। घटना के संबंध में गढ़ीमलहरा थाने में आवेदन दिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

राजीनामा के लिए बना रहे थे दवाब
बंदुआ प्रजापति ने बताया कि दो साल पहले जब वह विधायक नीरज दीक्षित के घर के सामने से निकल रहा था तो नीरज के पिता विनोद दीक्षित ने कहा कि यह अनाज की बोरी चक्की पर रख आओ। जब उसने बोरी रखने से इंकार किया तो विनोद दीक्षित से उस पर हमला कर दिया था। इस मामले में उसने गढ़ीमलहरा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जांच के बाद पुलिस ने दो साल पहले विनोद दीक्षित पर एससीएसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था और इस मामले में विनोद दीक्षित हाईकोर्ट से जमानत पर हैं। बंदुआ प्रजापति के अनुसार इसी मामले में राजीनामा करने के लिए प्रदीप दीक्षित ने सोमवार को उस पर हमला किया है।

राजनीतिक षड़यंत्र है
मैं फिलहाल क्षेत्र में हूं। मामले की मुझे ज्यादा जानकारी नहीं है। दो साल पहले मेरे पिता पर राजनीतिक षडय़ंत्र के तहत एससीएसटी एक्ट का मामला दर्ज कराया गया था। अब चुनाव में जो प्रत्याशी पराजित हुए हैं वे मेरी छवि बिगाडऩे और परिवार को फंसाने के लिए यह राजनीतिक षड़यंत्र रच रहे हैं।
नीरज दीक्षित, विधायक, महाराजपुर

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download