comScore

CM शिवराज सिंह चौहान ने किया ध्वजारोहण, जानें भाषण की मुख्य बातें

January 26th, 2018 11:02 IST
CM शिवराज सिंह चौहान ने किया ध्वजारोहण, जानें भाषण की मुख्य बातें

डिजिटल डेस्क,गुना। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुना में 69 गणतंत्र दिवस पर ध्वाजारोहण किया। इसके बाद उन्होंने वहां मौजूद लोगों को संबोधित किया।

सीएम शिवराज ने सभी को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए अपने भाषण की शुरूआत की। सीएम ने कहा कि आज से एक दशक पहले मध्य प्रदेश की पहचान एक पिछड़े राज्य के रूप में होती थी। आज मुझे यह कहते हुए गर्व है कि हम सभी के प्रयासों से प्रदेश देश की औसत विकास दर से आगे है। कृषि विकास दर में दुनिया में हम सबसे आगे हैं। मध्यप्रदेश हर क्षेत्र में तेज़ी से आगे बढ़ रहा है। हमारा प्रदेश कृषि विकास दर में नंबर एक है। यूपीए की सरकार हो या एनडीए की, लगातार मध्यप्रदेश कृषि कर्मण पुरस्कार अपने नाम कर रहा है। प्रदेश की विकास दर डबल डिजिट में है और मैं ऐसा व्यक्ति नहीं हूं, जो इससे संतुष्ट हो जाए। जब तक विकास का प्रकाश आम आदमी तक न पहुंच जाएं, मेरे लिए वो समुचित विकास नहीं है।


खेती को बढ़ावा देने की पूरी कोशिश

वहीं सीएम ने कहा कि हमने प्रदेश का सिंचित जमीन का रकबा 40 लाख हेक्टेयर किया। करीब 1.50 लाख किलोमीटर नई सड़कें बनाईं। नदी जोड़ो प्रोजेक्ट के तहत नर्मदा नदी को क्षिप्रा नदी से जोड़ा। खेती को बढ़ावा देने के लिए हम लगातार काम कर रहे हैं। सिंचाई की योजनाओं का ऐसा जाल बिछाया जाएगा कि अगले कुछ वर्षों में 60 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में खेती होगी। सीएम शिवराज ने अपने संबोधन में कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने अंत्योदय के लिए जो प्रेरणा दी है, उस पर चलकर हम रोटी, कपड़ा, आवास, शिक्षा और स्वास्थ्य की पूर्ति कर रहे हैं। मध्यप्रदेश की धरती पर हर गरीब का पक्का मकान होगा। कोई भी गरीब 2022 तक बिना पक्के मकान के नहीं रहेगा।


मेरे बच्चों तुम्हारी शिक्षा की राह में कोई आर्थिक बाधा नहीं आने दूंगा। 12वीं में 70 प्रतिशत अंक ले आओ और अपनी उच्च शिक्षा की फीस अपने मामा शिवराज से भरवाओ। शासकीय कॉलेज हो या प्राइवेट कॉलेज, पूरी फीस प्रदेश सरकार भरेगी

महिला सशक्तिकरण प्राथमिकता

बेटियों को हम देवी मानते हैं। शिक्षकों की भर्ती में उन्हें 50% व पुलिस विभाग में फॉरेस्ट को छोड़कर 33% आरक्षण दे रहे हैं।हमारी बेटियों का सशक्तिकरण करना जरूरी है। हम इस दिशा में निरंतर प्रयास कर रहे हैं। आज मध्यप्रदेश में 27 लाख बेटियां लाडली लक्ष्मी हैं। जब ये बेटियां बड़ी होंगी तो इनके बैंक खातों में 31 हज़ार करोड़ रुपये ट्रांसफर किए जाएंगे। महिला सशक्तिकरण हमारी प्राथमिकता है। मुझे गर्व है कि हमारी स्व-सहायता की बहनें उत्कृष्ट कार्य कर रही हैं। बहनों द्वारा निर्मित सामानों का बाजार बढ़े, इसलिए उनके सामानों की ब्रांडिंग सरकार करेगी।

कानून और व्यवस्था हमारी प्राथमिकता

कानून और व्यवस्था हमारी प्राथमिकता है। मध्य प्रदेश पुलिस निश्चित रूप से बहुत अच्छा कार्य कर रही है। 'सिमी' जैसे गिरोहों का नेटवर्क इन्होंने ध्वस्त किया। हमने पुलिस बल को बढ़ाने का फैसला किया है।हम उन किसानों के लिए समाधान योजना ला रहे हैं, जिन्हें डिफाल्टर होने के चलते लोन नहीं मिल रहा है। उनका बकाया ब्याज सरकार भरेगी और किसान किश्तों में राशि लौटा सकेंगे। इससे किसान को फिर से लोन मिल सकेगा।

कमेंट करें
geZUv