comScore
Dainik Bhaskar Hindi

स्कूल में बच्चों को दूध देने से बच्चे और किसान दोनों रहेंगे सेहतमंद : नितिन गडकरी

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 12th, 2018 15:09 IST

466
0
0
स्कूल में बच्चों को दूध देने से बच्चे और किसान दोनों रहेंगे सेहतमंद : नितिन गडकरी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि राष्ट्रीय दुग्ध विकास महामंडल (NDDB) ने मनपा स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को नि:शुल्क सुगंधित दूध देने का जो निर्णय लिया है, उससे जहां बच्चों की सेहत अच्छी रहेगी, वहीं दूध उत्पादक किसानों को आर्थिक लाभ होगा।  वे हनुमाननगर स्थित मनपा की लाल बहादुर शास्त्री हिंदी प्राथमिक शाला में  NDDB फाउंडेशन फार न्यूट्रिशन के तहत हुए दूध वितरण गिफ्ट मिल्क' कार्यक्रम के उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे।  

कुपोषण से मिल सकता है छुटकारा
गडकरी ने कहा कि NDDB के इस कार्यक्रम से मनपा स्कूलों में पढ़नेवाले विद्यार्थियों को नि:शुल्क पौष्टिक दूध मिलेगा। दूध उत्पादक किसानों के लिए  मार्केट तैयार होगा और उन्हें आर्थिक लाभ होगा। उन्होंने कहा कि देश में 36 फीसदी बच्चे कुपोषण ग्रस्त हैं। दूध जैसा पोषक आहार मिला तो ये बच्चे तंदुरुस्त हो सकते हैं। विदर्भ के किसानों ने NDDB के माध्यम से दूध संकलन कर उसे मदर डेयरी के मार्फत जनता के लिए उपलब्ध किया है। इससे हर साल विदर्भ के दूध उत्पादक किसानों को 60 लाख की आय होगी। 

चाय की जगह दूध पिलाएं
केन्द्रीय मंत्री  ने लोगों से आह्वान किया कि वे चाय की जगह दूध पिलाएं। विवाह समारोह या अन्य कार्यक्रमों में लोगों को चाय या शीतपेय पिलाने के बजाय सुगंधित दूध मेहमानों को पिलाना चाहिए। दूध पीने से सभी की सेहत अच्छी होगी। गडकरी की इस बात पर  उपस्थित लोग अपनी हंसी नहीं रोक पाए। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि दूध की बिक्री बढ़ने से किसानों की आय में भी बढ़ोतरी होगी। उन्होंने बैंकों व सार्वजनिक उद्योगों से भी सीएसआर के तहत स्कूलों में दूध वितरण कार्यक्रम अपने हाथों में लेने का आह्वान किया। कार्यक्रम के दौरान मंच पर पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, विधायक नागो गाणार, महापौर नंदा जिचकार, जिला परिषद अध्यक्ष निशा सावरकर, विभागीय आयुक्त अनूपकुमार, NDDB के अध्यक्ष दिलीप रथ, प्रकल्प संचालक रवींद्र ठाकरे प्रमुखता से उपस्थित थे। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर