comScore

कांग्रेस ने केंद्र पर लगया तानाशाही का आरोप- सोलापुर में मोदी की रैली के पहले ब्लैक आऊट, निर्माणकार्यों की रखेंगे आधारशिला

January 08th, 2019 21:23 IST
कांग्रेस ने केंद्र पर लगया तानाशाही का आरोप- सोलापुर में मोदी की रैली के पहले ब्लैक आऊट, निर्माणकार्यों की रखेंगे आधारशिला

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को महाराष्ट्र के एक दिवसीय दौरे पर हैं। इस दौरे में वे सोलापुर में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 30,000 मकान बनाने के लिए आधारशिला रखेंगे। इसके अलावा प्रधानमंत्री 4 लेन का सोलापुर-तुलजापुर-उस्मानाबाद एनएच-211 (नया एनएच-52) का उद्घाटन करेंगे। सरकार ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सोलापुर में बनाये जा रहे 30 हजार घरों से कचरा उठाने वाले, रिक्शा चालक, कपड़ा मजदूर, बीडी मजदूर जैसे गरीब बेघर लोगों को लाभ मिलेगा।

परियोजना की कुल लागत 1811.33 करोड़ रुपए है, जिसमें से 750 करोड़ रुपए केन्द्र सरकार की हिस्सेदारी होगी, जबकि शेष राशि राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी दूसरी बार यहां आ रहे हैं। इससे पहले उन्होंने 16 अगस्त 2014 को दौरा किया था। उस दौरे में उन्होंने 4 लेन के एनएच-9 के सोलापुर (महाराष्ट्र-कर्नाटक) सीमा सेक्शन के लिए आधारशिला रखी थी। साथ ही 765 किलोवाट की सोलापुर-रायपुर विद्युत संप्रेषण लाईन का उद्घाटन किया था। 

विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे मोदी 
दौरे को लेकर मोदी ने ट्विट कर कहा कि विकास परियोजनाएं सोलापुर और आस-पास के इलाकों में आवागमन को बेहतर करेंगी। आवासीय परियोजना विशेष रूप से ‘बीड़ी’ और कपड़ा श्रमिकों की मदद करेगा। स्वच्छता एवं सीवर सुविधाएं भी बेहतर होंगी। हम अपने नागरिकों के लिए जीवन और सुगम बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच) संख्या 211 के सोलापुर-उस्मानाबाद खंड का चार लेन मार्ग जनता को समर्पित किया जाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि वह भूमिगत सीवरेज प्रणाली की भी आधारशिला रखेंगे। मोदी ने कहा, ‘‘इनसे नागरिकों को बहुत लाभ पहुंचेगा।

प्रधानमंत्री के दौरे से पहले सोलापुर में ब्लैक आऊट
उधर पुणे में कांग्रेस की विधायक प्रणिति शिंदे ने सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे से पहले सोलापुर में ब्लैक आऊट किया गया है। जो तानाशाही है। विकास कार्यों के उद्घटन के लिए प्रधानमंत्री सोलापुर आएंगे। इस दौरान कांग्रेस ने आंदोलन का फैसला लिया है, लेकिन मंजूरी नहीं मिली। प्रणिति ने प्रधानमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि जिले में कई जगहा आंदोलन होंगे। आरक्षण मुद्दे को लेकर लोग सड़क पर उतरेंगे। किसानों की समस्याएं सुलझाई नहीं गई। इस स्थिति की खबर इंटेलिजेस को मिली है। जिस कारण आंदोलन दबाने के लिए तानाशाही शुरू कर दी गई।

विधायक ने कहा कि कल का दिन रहवासियों के लिए काला दिन होगा। केबल सेवा बंद रखी जाएगी। ब्लैक आऊट किया जाएगा। प्रणिति ने कहा कि वर्ष 2014 चुनावों के समय जो लहर थी, उस कारण मोदी प्रधानमंत्री बने। जनता को काफी आश्वासन दिए गए, जिस कारण जनता निराश हुई है। एक भी आश्वासन पूरा नहीं किया गया। 

लिंगायत, धनगर समाज का बहिष्कार
आरक्षण मुद्दे पर लिंगायत तथा धनगर समाज ने प्रधानमंत्री की जनसभा पर बहिष्कार डाला है। वहीं मराठा समाज और मुस्लिम समाज की भी सरकार पर नाराजगी बनी हुई है। इसे लेकर जनसभा में भीड़ इकठ्ठा करना भाजपा के सामने बड़ी चुनौती बनी है। सहकार मंत्री सुभाष देशमुख, जिले के अभिभावक मंत्री विजयकुमार देशमुख, सांसद शरद बनसोड़े ने कार्यक्रम को लेकर कमर कसी है।
 

कमेंट करें
vu7tr