comScore

उत्तर महाराष्ट्र में कांग्रेस ने थोरात को बनाया पार्टी का चेहरा, सूखा प्रभावित इलाकों का दौरा शुरु 

उत्तर महाराष्ट्र में कांग्रेस ने थोरात को बनाया पार्टी का चेहरा, सूखा प्रभावित इलाकों का दौरा शुरु 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। विधानसभा में विपक्ष के नेता पद से राधाकृष्ण विखे पाटील के इस्तीफे के बाद कांग्रेस ने उत्तर महाराष्ट्र में पूर्व मंत्री व विधायक बालासाहब थोरात को पार्टी का चेहरा बनाया है। कांग्रेस ने सूखा प्रभावित इलाकों की स्थिति के बारे में जानने के लिए पार्टी नेताओं की समिति बनाई है। इसके तहत उत्तर महाराष्ट्र की जिम्मेदारी थोरात को दी गई है। सोमवार को थोरात की अध्यक्षता में पार्टी नेताओं की समिति ने उत्तर महाराष्ट्र में सूखा प्रभावित इलाकों का दौरा शुरू कर दिया। जबकि विदर्भ में कांग्रेस विधायक विजय वडेट्टीवार की अध्यक्षता में समिति ने भी दौरा शुरू कर दिया है। राज्य के दूसरे अंचल में कांग्रेस नेताओं की टीम मंगलवार से दौरे की शुरुआत करेगी। मराठवाड़ा में पार्टी नेता बसवराज पाटील और मधुकराव चव्हाण, पश्चिम महाराष्ट्र में पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण की अध्यक्षता में सूखा प्रभावित इलाकों के दौरे के लिए समिति बनाई गई है। यह समिति चारा छावनी, खेतों में जाकर किसानों से चर्चा, पानी की स्थिति और स्थानीय पार्टी के पदाधिकारियों से चर्चा करेगी। इसके बाद समिति की तरफ से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण को रिपोर्ट सौंपी जाएगी। 

कांग्रेस के नेताओं ने शुरू किया सूखा प्रभावित इलाकों का दौरा 

इधर, कांग्रेस नेता विखे पाटील ने भाजपा में शामिल होने का मन बना लिया है। सोमवार को विखे पाटील ने भाजपा नेता व प्रदेश के जलसंसाधन मंत्री गिरीश महाजन से मुलाकात की। बैठक के बाद विखे पाटील ने कहा कि यह राजनीतिक मुलाकात नहीं थी। विखे पाटील के बेटे सुजय विखे पाटील ने भाजपा के टिकट पर अहमदनगर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा है। इसलिए कांग्रेस ने अब उत्तर महाराष्ट्र में पार्टी के चेहरे के रूप में थोरात को आगे करने का फैसला किया है। थोरात और विखे पाटील एक-दूसरे के कट्टर विरोधी रहे हैं।
 

कमेंट करें
FBDt3