comScore
Dainik Bhaskar Hindi

राहुल की ताजपोशी से पहले कांग्रेस नेता ने लगाए वंशवाद के आरोप

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 30th, 2017 14:48 IST

681
0
0

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी अब जल्द ही कांग्रेस की कमान संभालने वाले हैं। 4 दिसंबर को राहुल कांग्रेस के प्रेसिडेंट पद के लिए नॉमिनेशन फाइल करेंगे। इस बीच महाराष्ट्र कांग्रेस के सेक्रेटरी शहजाद पूनावाला ने राहुल को प्रेसिडेंट बनाने पर सवाल खड़े कर दिए हैं। पूनावाला ने कांग्रेस पर आरोप लगाए हैं कि राहुल को प्रेसिडेंट बनाने के लिए इलेक्शन में धांधली की जा रही है। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस पर 'वंशवाद की राजनीति' करने के भी आरोप लगाए हैं। बता दें कि शहजाद पूनावाला कांग्रेस के युवा नेता हैं और टीवी चैनलों में अक्सर कांग्रेस का बचाव करते दिखते हैं।


ये इलेक्शन नहीं, सिलेक्शन है

कांग्रेस नेता शहजाद पूनावाला ने ट्विटर पर कांग्रेस की प्रेसिडेंशियल इलेक्शन प्रोसेस पर भी सवाल उठाए हैं। पूनावाला ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा है कि 'कांग्रेस के प्रेसिडेंशियल इलेक्शन में राहुल गांधी को फायदा पहुंचाने के लिए हेराफेरी की जा रही है। इस इलेक्शन में जो लोग वोट डालेंगे, उनके नाम पहले से ही फिक्स हैं।' इसके आगे एक और ट्वीट में पूनावाला ने कहा है कि 'ये इलेक्शन नहीं बल्कि सिलेक्शन है।' उन्होंने वंशवाद की राजनीति पर हमला करते हुए कहा कि 'एक परिवार से केवल एक मेंबर को ही ये पद मिलना चाहिए, चाहे वो कोई भी हो।' उन्होंने ये भी कि वो गांधी परिवार के हैं, इसलिए वही प्रेसिडेंट बनेंगे।

पहले वाइस प्रेसिडेंट से इस्तीफा दें राहुल

इसके आगे शहजाद पूनावाला ने राहुल पर जोरदार हमला करते हुए ये भी कहा कि 'राहुल को पहले वाइस प्रेसिडेंट के पद से इस्तीफा देना चाहिए। उसके बाद प्रेसिडेंट का इलेक्शन लड़ना चाहिए।' उन्होंने ये भी कहा कि 'मेरे जैसा कार्यकर्ता भी राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ने की सोचता, अगर उन्होंने वाइस प्रेसिडेंट के पद से इस्तीफा दिया होता और सामान्य कांग्रेस कार्यकर्ता की तरह चुनाव लड़ते।' इतना ही नहीं शहजाद ने राहुल गांधी को एक लेटर लिख ये भी पूछा है कि 'क्या कांग्रेस में प्रेसिडेंट का पद केवल 'गांधी' परिवार के लिए ही रिजर्व है?

भाई ने बनाई दूरी

[removed][removed]

[removed][removed]

शहजाद पूनावाला का ये बयान सामने आने के बाद उनके भाई और कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला ने भी उनसे दूरी बना ली है। तहसीन पूनावाला ने शहजाद के इस बयान पर ट्वीट किया है जिसमें लिखा है कि 'मैं ये जानकर हैरान हूं कि शहजाद ने ये सब तब किया जब गुजरात में कांग्रेस जीतने जा रही है। मैं शहजाद से सारे पॉलिटिकल रिलेशन खत्म करने जा रहा हूं। कांग्रेस राहुल गांधी को प्रेसिडेंट बनाना चाहती है।

4 दिसंबर को पर्चा भरेंगे राहुल

राहुल गांधी 4 दिसंबर को कांग्रेस प्रेसिडेंट के लिए नॉमिनेशन फाइल करेंगे। 4 तारीख को राहुल अपने सपोटर्स के साथ कांग्रेस हेडक्वार्टर जाकर प्रेसिडेंट पद के लिए नॉमिनेशन फाइल करेंगे। 4 दिसंबर नॉमिनेशन फाइल करने का आखिरी दिन है और इसी दिन राहुल भी अपना पर्चा भरेंगे। इसके बाद अगले हफ्ते यानी 11 दिसंबर को प्रेसिडेंट पद का अनाउंसमेंट किया जाएगा।

नेहरू-गांधी परिवार के 5वें शख्स होंगे राहुल

कांग्रेस के प्रेसिडेंट बनते ही राहुल गांधी नेहरू-गांधी परिवार के 5वें शख्स बन जाएंगे, जो इस पद की जिम्मेदारी संभालेंगे। उनसे पहले इस परिवार से मोतीलाल नेहरू, जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और सोनिया गांधी इस पद को संभाल चुकी हैं। बता दें कि राहुल से पहले उनकी मां सोनिया गांधी 19 साल से इस पद को संभाल रहीं हैं। अपने पति और फॉर्मर प्राइम मिनिस्टर राजीव गांधी की मौत के 7 साल बाद यानी 1998 में कांग्रेस प्रेसिडेंट बनीं थीं। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर