comScore

गुजरात : क्रॉस वोटिंग के बाद दो विधायकों ने छोड़ी कांग्रेस, कहा - राहुल ने धोखा दिया

गुजरात : क्रॉस वोटिंग के बाद दो विधायकों ने छोड़ी कांग्रेस, कहा - राहुल ने धोखा दिया

हाईलाइट

  • अल्पेश ठाकोर और धवन झाला ने क्रॉस वोटिंग के बाद छोड़ी कांग्रेस
  • राहुल गाँधी ने दिया धोखा, हमें किया जाता है बेइज्जत - कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर
  • हमारे पास है पर्याप्त ताकत, आराम से जीतेंगे हमारे दोनों उम्मीदवार - भाजपाई नेता और गुजरात मुख्यमंत्री विजय रुपाणी

डिजिटल डेस्क, गांधी नगर। गुजरात कांग्रेस के विधायक अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह झाला ने शुक्रवार को राज्य विधानसभा से इस्तीफा दे दिया। गुजरात में दो राज्यसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में क्रॉस वोटिंग करने के बाद उन्होंने इस्तीफा दिया है। लोकसभा के लिए चुने गए भाजपा नेताओं अमित शाह और स्मृति ईरानी के इस्तीफा देने के बाद राज्यसभा की दो सीटें खाली हो गईं थी इसीलिए यहां उपचुनाव हो रहे हैं। कांग्रेस पार्टी से चंद्रिका चुड़ासमा और गौरव पांड्या उम्मीदवार हैं। वहीं विदेश मंत्री एस जयशंकर और ओबीसी नेता जुगलजी ठाकोर बीजेपी से उम्मीदवार हैं।

इस्तीफा देने के बाद अल्पेश ठाकोर ने कहा कि 'मैंने राहुल गांधी पर भरोसा करके कांग्रेस पार्टी ज्वॉइन की थी, लेकिन दुर्भाग्यवश उन्होंने हमारे लिए कुछ नहीं किया और पार्टी अध्यक्ष के पद से इस्तीफ़ा दे दिया। कांग्रेस पार्टी जनाधार खो चुकी है और हमारे साथ धोखा हुआ है। हर बार हमें बेइज्जत किया गया, इसलिए मैंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है और कांग्रेस छोड़ दी है। 

कांग्रेस के खिलाफ वोटिंग करने के बाद अल्पेश ठाकोर ने कहा कि 'मैंने अंतर आत्मा की आवाज सुनकर और कुशल राष्ट्रीय नेतृत्व के चयन के लिए मतदान किया है। जो पार्टी (कांग्रेस) जन अधिकार खो चुकी है और जिस पार्टी ने हमारे साथ धोखा किया है, उसी बात को ध्यान में रखकर मैंने वोट किया है।' धवल झाला ने कहा कि 'पार्टी के वरिष्ठ नेता छोटे कार्यकर्ताओं की बात सुनते तक नहीं हैं। हमें बार-बार बेइज्जत किया जाता है। यह सब देखते हुए मैं पार्टी पद से इस्तीफा दे रहा हूं।'  

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने मतदान के बाद कहा कि, 'हमारे पास पर्याप्त ताकत है और मुझे यकीन है कि हमारे दोनों उम्मीदवार आराम से जीतेंगे।' उन्होंने विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोप का मजाक उड़ाया। विजय रूपाणी ने कहा कि, 'यह कांग्रेस है जिसे इन सब बातों का डर है क्योंकि कांग्रेस ने अपने विधायकों का विश्वास खो दिया है और अपने सदस्यों को किसी रिसॉर्ट में ले जाना पड़ा। हमें कोई चिंता नहीं है। हमारे पास संख्या है। हम कभी भी विधायकों की खरीद-फरोख्त में शामिल नहीं होते।'

बता दें कि क्रॉस वोटिंग के डर से कांग्रेस ने 71 विधायकों में से 60 विधायकों को उत्तरी गुजरात के पालनपुर में एक रिसॉर्ट में पहुंचा दिया था। वोट डालने के लिए कांग्रेस विधायकों की बस मतदान स्थल पर दोपहर के आसपास पहुंची। 


 

कमेंट करें
Ceo7M