comScore

'तीन तलाक बिल से महिलाओं को नहीं, बीजेपी को फायदा'

January 03rd, 2018 21:33 IST
'तीन तलाक बिल से महिलाओं को नहीं, बीजेपी को फायदा'

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ट्रिपल तलाक बिल को लेकर बुधवार को राज्यसभा में भारी हंगामा हुआ। सरकार लोकसभा में बिल तो पास करा चुकी है लेकिन राज्यसभा में कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष ने अड़ंगा लगा दिया। कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष ने इस बिल में सुधार के लिए इसे सिलेक्शन कमिटी में भेजने की मांग की। जबकि भाजपा सरकार ने इससे इंकार कर दिया। विपक्ष के हंगामे चलते राज्यसभा की कार्यवाही गुरुवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है। कांग्रेस का कहना है कि पार्टी समेत पूरा विपक्ष इसके खिलाफ है लेकिन बीजेपी इसे लेकर बहुत जल्दबाजी में है। कांग्रेस ने कहा कि इस बिल से महिलाओं का नहीं, बीजेपी का फायदा होगा।

राज्यसभा में कार्यवाही स्थगित होने के बाद गुलाम नबी आजाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा, पूरा कांग्रेस और पूरा विपक्ष तीन तलाक के खिलाफ है, इस बिल से मुस्लिम महिला को पूरी तरफ इंसाफ नहीं मिलता, इससे बीजेपी को राजनीतिक फायदा जरूर हो सकता है। आजाद ने कहा कि, सिलेक्शन कमिटी का फैसला दलों के बहुमत के आधार पर होता है, हमारे साथ तो राजनीतिक दलों का और सांसदों का भी बहुमत है।

कांग्रेस समेत विपक्ष इस बिल को सिलेक्ट कमिटी में भेजने की मांग पर अड़ा हुआ है। सरकार विपक्ष की इस मांग पर तैयार नहीं है। हंगामे की स्थिति को देखते हुए राज्यसभा की कार्यवाही को गुरुवार सुबह तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

उधर, सरकार की तरफ से वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, कांग्रेस पार्टी के विरोध के रवैये के कारण मुस्लिम महिलाओं के साथ अन्याय होता रहेगा। जेटली ने कहा, हमारे पास जनमत है उसके कारण कांग्रेस और सभी राजनीतिक दलों को इस विधेयक का समर्थन करना पड़ेगा।

जेटली ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'विपक्ष अप्रत्यक्ष तरीके से तीन तलाक वाले विधेयक का विरोध कर रहा है। यह दिखावा था कि उन्होंने (इसके पक्ष में) बयान दिया और लोकसभा में इसका समर्थन किया। आज राज्यसभा में उन्होंने पूरा प्रयास किया कि किसी तरह यह विधेयक पारित न हो।' उन्होंने कहा, यदि विधेयक में सुधार के लिए पार्टी का कोई सुझाव है तो वह हमें दे सकते हैं। 

कमेंट करें
NFM58