comScore

शाह के पहुंचते ही कांग्रेस विधायकों ने छोड़ा गांधीनगर, क्रॉस वोटिंग का डर


हाईलाइट

  • 50 विधआयकों को भेजाप बनासकांठा
  • कई कांग्रेस विधायकों के बीजेपी में शामिल होने का डर
  • गुजरात के दौरे पर हैं अमित शाह

डिजिटल डेस्क, अहमदाबाद। राज्यसभा चुनाव में हॉर्स ट्रेडिंग और क्रॉस वोटिंग की आशंका के चलते कांग्रेस ने अपने 50 से ज्यादा विधायक बनासकांठा के बालाराम पैलेस भेज दिए हैं, ये सभी विधायक सीधे मतदान केंद्र पहुंचेंगे।  

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह इस समय गुजरात की यात्रा पर हैं, उनके आने से पहले से ही कयास लगाए जा रहे थे कि कांग्रेस के कई विधायक बीजेपी में शामिल हो गए हैं, बीजेपी के संपर्क में विधायक अल्पेश ठाकोर, चंदनजी ठाकोर, धवल सिंह झाला जैसे कई विधायक हैं। 

गुजरात की 2 राज्यसभा सीटों के लिए 5 जुलाई को चुनाव होना है। विधायकों की संख्या के हिसाब से दोनों सीटें बीजेपी के खाते में जाना लगभग तय है। दोनों सीटों का चुनाव अलग-अलग होना है, इसलिए चुनाव जीतने के लिए विधानसभा में आधे से ज्यादा विधायकों की जरूरत है। 

बता दें कि 2017 के राज्यसभा चुनाव से पहले भी कांग्रेस अपने विधायकों को बंगलुरु ले गई थी, उस राज्यसभा चुनाव के दौरान राजस्थान के वर्तमान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गुजरात कांग्रेस के प्रभारी थे। विधायकों को बाहर ले जाने की रणनीति उन्होंने ही बनाई थी। ऐसा न करने पर शायद अहमद पटेल चुनाव नहीं जीत पाते। अहमद पटेल सिर्फ एक वोट से चुनाव जीते थे।

विधायकों की बस को लेकर विपक्ष के नेता परेश धनाणी साबरकांठा पालनपुर के बालाराम पैलेस जाने के लिए निकले हैं, सभी विधायक रास्ते में अंबा माता के दर्शन भी करेंगे। कांग्रेस नेता अश्विन कोटवाल के मुताबिक बालाराम पैलेस में राज्यसभा का मॉक चुनाव कराकर विधायकों को प्रशिक्षित किया जाएगा, ताकि कोई विधायक गलती न करे। 

कमेंट करें
AFRZW