comScore

राम मंदिर निर्माण पर जानबूझकर देरी ,नागपुर, अयोध्या व बंगलुरु में होगी हुंकार सभा

November 22nd, 2018 14:50 IST
राम मंदिर निर्माण पर जानबूझकर देरी ,नागपुर, अयोध्या व बंगलुरु में होगी हुंकार सभा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राम मंदिर के मामले में जानबूझ कर देरी की जा रही है, जिसकी वजह से आंदोलन करना पड़ रहा है। 25 नवंबर को शहर के क्रीड़ा चौक स्थित डॉ. ईश्वर देशमुख शारीरिक, शैक्षणिक महाविद्यालय के साथ-साथ अयोध्या व बंगलुरु में हुंकार सभा का आयोजन विश्व हिंदू परिषद द्वारा किया जा रहा है। यह बात हुंकार सभा के संयोजक सनत गुप्ता व आयोजन समिति के अध्यक्ष संजय भेंडे ने कही है। वे विष्णुजी की रसोई में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में बोल रहे थे। हुंकार सभा के व्यवस्थापक अजय निलदावार, विश्व हिंदू परिषद के विदर्भ प्रांत के अध्यक्ष राजेश्वर निवल, सह संयोजक दिनेश गौर, प्रचार प्रमुख अनिल सांबरे व उपाध्यक्ष गोविंद शेंडे उपस्थित थे।

 चुनाव से कोई संबंध नहीं
पत्र परिषद में कहा गया कि पहले उम्मीद थी कि न्यायालय से मंदिर निर्माण का रास्ता निकलेगा, लेकिन न्यायालय ने आगे के लिए राम मंदिर मामले की सुनवाई टाल दी है। इससे ऐसा लग रहा है कि मंदिर के निर्माण को प्राथमिकता नहीं दी जा रही है। इसमें विलंब होने से रामभक्तों में नाराजगी है। हुंकार सभा का आयोजन संतों के मार्गदर्शन में किया जा रहा है। केंद्र सरकार को सोमनाथ मंदिर की तर्ज पर राम मंदिर के लिए भी अध्यादेश लाना चाहिए। हमलोग जनता की भावनाओं को सरकार तक पहुंचा रहे हैं।  इस विषय को लेकर विश्व हिन्दू परिषद के नेता  राष्ट्रपति, राज्यपाल और प्रधानमंत्री से मिलकर निवेदन कर चुके हैं। पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए बताया गया कि इस आयोजन का चुनाव से कोई संबंध नहीं है। अखाड़ा परिषद की आपत्ति पर पूछे गए सवाल पर विहिंप ने स्पष्ट किया कि आयोजन को लेकर अखाड़ा परिषद को कोई अापत्ति नहीं है। आयोजन समिति के अध्यक्ष श्री भेंडे ने कहा कि यह कार्यक्रम विश्व हिन्दू परिषद का है, इसमें किसी भी संघ के पदाधिकारी या विधायक को विशेष आमंत्रण नहीं िदया गया है।  सभी रामभक्त कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं, चाहे वह किसी भी पार्टी या दल के हों। 

हुंकार सभा का आयोजन रविवार 25 नवंबर को क्रीड़ा चौक स्थित डॉ. ईश्वर देशमुख शारीरिक, शैक्षणिक महाविद्यालय के मैदान में किया जाएगा। इसमें साध्वी ऋतंभरा, ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य वासुदेवनंद महाराज, संत देवनाथ पीठाधीश्वर जितेंद्रनाथ महाराज के साथ विहिंप के कार्याध्यक्ष अलोक कुमार मंच पर प्रमुख रूप से उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम में एक लाख लोगों के पहुंचने का दावा किया गया है। मैदान में 60 बाय 80 फीट का मंच होगा। मंच पर एक बड़ी स्क्रीन के अलावा मैदान के आस-पास 3 एलईडी स्क्रीन लगाई जाएंगी। वाहनों की पार्किंग के लिए आस-पास के 7 मैदानों को सुनिश्चित किया गया है।  

कमेंट करें
5kzns