comScore

हिन्दू महासभा के कैलेंडर पर बवाल, ताजमहल को बताया तेजो महालय, कुतुब मीनार को विष्णु स्तंभ 

March 19th, 2018 19:36 IST

डिजिटल डेस्क, अलीगढ़। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में जारी किए गए हिंदू महासभा के विवादित कैलेंडर को लेकर बवाल मच गया है। हिंदू महासभा की अलीगढ़ इकाई ने रविवार को एक हिंदू कैलेंडर जारी किया है। इसमें मस्जिदों और मुगलकालीन स्मारकों के नाम बदलकर लिखे गए हैं। हिंदू नववर्ष के इन कैलेंडर में कुतुबमीनार से लेकर मक्का तक को मंदिर बताया गया है। 

किसे क्या बताया गया 

-दिल्ली के मेहरौली में स्थित कुतुब मीनार को विष्णु स्तम्भ बताया है।

-जौनपुर के अटाला मस्जिद को अटाला देवी मंदिर बताया गया है।

-बाबरी मस्जिद को राम जन्मभूमि बताया गया। 

-मध्य प्रदेश के धार में स्थित कमल मौला मस्जिद को भोजशाला बताया है। जबकि माना जाता है कि यह स्थान मां सरस्वती से ताल्लुक रखता है।

- वाराणसी में स्थित ज्ञानव्यापी मस्जिद को काशी विश्वनाथ मंदिर बताया है। जबकि मुगल शासक औरंगजेब ने हिंदू मंदिर को तोड़कर यहां मस्जिद बनवा दी थी।

- मुस्लिमों के तीर्थ स्थल मक्का को मक्केश्वर महादेव का मंदिर बताया है। कहा जाता है कि पहले यह महादेव का मंदिर था।

- दुनिया के सात अजूबों में से एक ताजमहल को तेजो महालय शिव मंदिर बताया है। 

महासभा के राष्ट्रीय सचिव ने क्या कहा

इस मामले पर महासभा के राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडे का कहना है कि हमने नए साल के मौके पर हवन का आयोजन किया है और इस देश को एक हिंदू राष्ट्र बनाने का संकल्प लिया है। साथ ही उन्होंने कहा विदेशी आक्रमणकारियों ने देश के हिंदू धर्म स्थलों को लूटा और हिंदुओं के धार्मिक स्थलों के नाम बदलकर उन्हें मस्जिद बना दिया। अब उन्हें इन धार्मिक स्थलों को हिंदुओं को वापस कर देना चाहिए।

राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन ने आगे कहा कि यदि मुस्लिम दरियादिली दिखाते हैं तो हम लोग वापस मिले धार्मिक स्थलों के नाम फिर से वास्तविक नामों पर कर देंगे। उन धार्मिक स्थलों के वास्तविक नाम कैलेंडर में दिए गए हैं, उन्हें वही नाम दिए जाएंगे।

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 36 | 20 April 2019 | 04:00 PM
RR
v
MI
Sawai Mansingh Stadium, Jaipur
IPL | Match 37 | 20 April 2019 | 08:00 PM
DC
v
KXIP
Feroz Shah Kotla Ground, Delhi