comScore
Dainik Bhaskar Hindi

दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव में धमाल मचाने तैयार हैं कपल , जोश के साथ हर दिन सीख रहे नए स्टेप

BhaskarHindi.com | Last Modified - October 09th, 2018 15:34 IST

1.9k
0
0
दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव में धमाल मचाने तैयार हैं कपल , जोश के साथ हर दिन सीख रहे नए स्टेप

डिजिटल डेस्क, नागपुर। दैनिक भास्कर जहां पाठकों की रूचि का ध्यान रखता है वहीं समाजिक जिम्मेदारी भी बखूबी निभाता है। दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव को पूरी तरह एन्जाय करते हैं लोग।  दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव की प्रैक्टिस कर रहे कपल्स का कहना है कि जीवनसाथी के साथ गरबा करने की बात ही अलग है। इससे उमंग और उत्साह और भी बढ़ जाता है। कई कपल्स एेसे हैं, जो नवविवाहित हैं, साथ कई कपल्स पिछले कई वर्ष से दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव में भाग लेते आए हैं। कुछ कपल ने भास्कर से मुलाकात के दौरान कहा कि दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव जैसा शहर में दूसरा कोई गरबा नहीं है। 

हसबैंड के साथ खेलूंगी गरबा
मैं पिछले कई वर्ष से दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव में भाग ले रही हंू। इस बार फर्स्ट टाइम हसबैंड के साथ गरबा खेलने का मौका मिला है। शादी को 8 वर्ष हो गए। अभी तक फ्रेंड्स के साथ गरबा खेलती आई हंू। मेरा 1 साल का बेबी है, जिसको भी तैयार करके लाने वाली हूं। वर्कशॉप में प्रैक्टिस के दौरान सभी में इतना जोश है, तो गरबा ग्राउंड में तो सभी धमाल मचाने वाले हैं। हमने गरबा के लिए स्पेशल ड्रेस बड़ौदा से मंगवाए हैं। 
केतकी चैत्र सालनकर

सोशल मैसेज देंगे
गरबा महोत्सव में मां की अाराधना के साथ सोशल मैसेज देने वाले हैं। मेरे पति कई वर्ष से दैनिक भास्कर गरबा में आ रहे हैं, पर मुझे 2 वर्ष ही हुए हैं। दैनिक भास्कर गरबा में हर स्टेप बहुत ही बढ़िया से सिखाया जाता है। 
श्रुति हरीश निमजे

गरबा में हुई थी मुलाकात
मेरे पति पिछले 11 वर्ष से दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव में आ रहे हैं। मुझे भी  5 वर्ष हो गए हैं। लास्ट इयर हमारी शादी हुई है। हमारी मुलाकात दैनिक  भास्कर गरबा में हुई। हम दोनों दैनिक भास्कर गरबा को बहुत लकी मानते हैं। गरबा के लिए डिफरेंट ड्रेसअप सोचा, ताकि प्राइज जीत सकें। 
अनु पंकज ढोबले

हर बार सिखाते हैं नए स्टेप
प्रशिक्षक टीम गरबा में हर बार नए स्टेप सिखाती है। साथ ही अगर किसी पार्टिसिपेट को स्टेप नहीं आता है, तो बार-बार उसे स्टेप करना सिखाया जाता है। दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव को लेकर हर वर्ग में उत्साह है। साथ ही कपल्स का एक फ्रेंड सर्कल तैयार हो गया है।
जया खुशाल सेवकानी

पत्नी करती है ड्रेस सिलेक्ट
हम कई वर्ष से दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव में पार्टिसिपेट कर रहे हैं। हर बार वाइफ कुछ नया करती है। मेरा मेकअप भी वाइफ ही करती है। गरबा के लिए बढ़िया डिजाइन और कलरफुल ड्रेस सिलेक्ट करने वाले हैं, ताकि ग्राउंड में हटकर दिखें। गरबा महोत्सव के लिए तैयारियां जोरों पर हैं। 
स्वाति पंकज गुप्ता

गुजरात से की ड्रेस की खरीदी
गरबा के लिए गुजरात से पारंपरिक ड्रेस की खरीदी की है। हम दोनों पति-पत्नी गरबा महोत्सव में धमाल मचाने वाले हैं। दैनिक भास्कर गरबा हमारे लिए फिक्स है। शहर में कई और गरबा होते हैं, पर दैनिक भास्कर जैसा गरबा शहर में कहीं और नहीं है। -कविता सुनील जायसवाल
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर