comScore

बिजली चोरी के मामले में दो को जेल के साथ लगा 41 लाख रुपए का लगाया जुर्माना 

February 25th, 2019 21:38 IST
बिजली चोरी के मामले में दो को जेल के साथ लगा 41 लाख रुपए का लगाया जुर्माना 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महानगर की ठाणे कोर्ट ने बिजली चोरी के मामले में दो आरोपियों को दोषी ठहराते हुए दो साल के कारावास की सजा सुनाई है। एक इंजीनियरिंग यूनिट चलानेवाले इन दोनों लोगों पर 41 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया है। जिला न्यायाधीश पी. पी. जाधव के सामने इस मामले की सुनवाई हुई। मामले से जुड़े दोनों पक्षों को सुनने के बाद न्यायाधीश ने इंजीनियरिंग यूनिट के मालिक खलील अहमद नवाबाली सुबेदार पर 35.85 लाख रुपये का जुर्माना लगाया और यूनिट के संचालक अनीस अहमद शफीक अहमद खान पर 5.97 लाख रुपये का जुर्माना लगाया। अतिरिक्त सरकारी वकील विवेक काडू ने न्यायाधीश के सामने कहा कि महाराष्ट्र राज्य बिजली बोर्ड की एक टीम की ओर से 28 दिसंबर 2010 को मारे गए छापे में युनिट में बिजली चोरी का मामला सामने आया था। उन्होंने कहा कि रीडिंग कम करने के लिए इंजीनियरिंग युनिट के मीटर में मार्च 2009 से नवम्बर 2010 के बीच एक इलेक्ट्रॉनिक सर्किट लगाया गया था और इस कारण 2.18 लाख यूनिट बिजली चोरी हुई जिसकी कीमत 20.91 लाख रुपये होती है। आरोपियों के खिलाफ बिजली अधिनियम की धारा 135 और 138 के तहत मामला दर्ज किया गया था।       

अवसादग्रस्त बुजुर्ग  महिला ने 26वीं मंजिल से कूदकर की आत्महत्या

उधर पति की मौत के बाद अकेलेपन से निराश एक 73 वर्षीय महिला ने अपनी 26वीं मंजिल पर स्थित घर से कूदकर आत्महत्या कर ली। घटना मुंबई के शिवडी इलाके की है। पुलिस ने एडीआर दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। आत्महत्या करने वाली महिला का नाम सविता शर्मा है। शुरूआती छानबीन में पता चला है कि सविता के पति लक्ष्मण शर्मा की 18 दिसंबर 2018 को मौत हो गई थी। इसके बाद से  सविता अकेली रहतीं थीं। पति की मौत के बाद सविता डिप्रेशन (अवसाद) में चली गईं थीं। वे क्रिसेंड बी टॉवर के रुम नंबर 2606 में रहतीं थीं। पुलिस के मुताबिक सविता ने सोमवार सुबह पौने आठ बजे अपने घर की गैलरी से नीचे छलांग लगा दी। सविता की मौके पर ही मौत हो गई। उनका शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। सविता की बेटी अपने परिवार के साथ मुंबई के परेल इलाके में रहती है।     

कमेंट करें
Y0Awr