comScore
Dainik Bhaskar Hindi

सवालो में मुलाकात: CJI की खिलाफत करने वाले जज से घर पर मिले भाकपा नेता डी. राजा

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 13th, 2018 09:59 IST

2.1k
0
1
सवालो में मुलाकात: CJI की खिलाफत करने वाले जज से घर पर मिले भाकपा नेता डी. राजा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चीफ जस्‍टिस और सुप्रीम कोर्ट के कामकाज पर सवाल खड़े करने वाले 4 जज में से एक जे चेलामेश्वर की भाकपा नेता डी. राजा से मुलाकात सवालों के घेरे में आ गई। शुक्रवार को देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कोर्ट के अंदर के कामकाज पर सवाल उठाए थे। वहीं प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद जस्टिस जे चेलामेश्वर से उनके घर जाकर कम्युनिस्ट पार्टी के नेता और तमिलनाडु से राज्यसभा सांसद डी राजा की मुलाकात पर राजनीतिक पार्टियों समेत लोग सवाल खड़े कर रहे हैं। 

Image result for Chelameswar with d raja


जजों ने लगाए थे आरोप

बता दें कि शुक्रवार को जस्टिस जे चेलामेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसेफ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के फैसले पर सवाल खड़े किए थे। इतना ही नहीं इन जजों ने लोकतंत्र को भी खतरे में बताया था। जस्टिस के अनुसार उन्होंने इस समस्या को लेकर चीफ जस्टिस को पत्र भी लिखा था। लेकिन इसपर कोई कार्रवाई न होने पर उन्हें मीडिया का रास्ता अपनाना पड़ा। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जस्टिस चेलामेश्वर ने कहा कि 'किसी भी देश के लोकतंत्र के लिए जजों की स्वतंत्रता भी जरूरी है। अगर ऐसा नहीं होता है तो लोकतंत्र नहीं बच पाएगा। हमने चीफ जस्टिस को समझाने की बहुत कोशिश की, लेकिन वो नहीं समझ पाए।


डी राजा बोले इस असाधारण काम के लिए की मुलाकात

सुप्रीम कोर्ट के जजों का इस तरह कॉन्फ्रेंस कर न्याय व्यवस्था के सबसे बडे़ मंदिर पर सवाल खड़े करने पर भी प्रश्न खड़े होने लगे हैं। वहीं इस मामले में डी राजा ने बताया कि जस्टिस चेलामेश्वर को वे लंबे समय से जानते हैं। उन्होंने बताया कि जब उन्हें पता चला कि जस्टिस चेलामेश्वर और अन्य जजों ने यह असाधारण काम किया है, तो लगा कि उनसे जा कर मिलना चाहिए। डी राजा के अनुसार यह मामला देश के भविष्य और लोकतंत्र की बात है और वे इसे सियासी रंग नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बात को सबको ध्यान रखना चाहिए। 

वहीं इ बीजेपी समेत कई राजनीतिक पार्टियों ने इस मुलाकात पर सवाल उठाया है। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download