comScore

साल 2017 टॉप-10 रिकॉर्ड्स : दिनेश कार्तिक ने किया शर्मसार तो रोहित ने लगाई डबल सेंचुरी

December 31st, 2017 16:44 IST
साल 2017 टॉप-10 रिकॉर्ड्स : दिनेश कार्तिक ने किया शर्मसार तो रोहित ने लगाई डबल सेंचुरी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। साल 2017 भारतीय टीम और खिलाड़ियों के लिए काफी शानदार रहा है। भारतीय टीम इस साल अजेय रही है। वहीं कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा ने तो रिकॉर्ड की झड़ी लगा दी। इनके अलावा दुनियाभर में क्रिकेट और क्रिकेटर्स ने अपनी छाप छोड़ी है। चाहे श्रीलंका टीम, दिनेश कार्तिक, स्टीव स्मिथ, क्रिस गेल, एबी डिविलियर्स, शेन वॉटसन, शोएब मलिक ने भी अपने शानदार खेल से सभी का ध्यान अपनी ओर खिंचा है। आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही रिकॉर्ड्स जो अनबिलीवेबल हैं...


1. सात में से 3 डबल सेंचुरी रोहित के नाम
क्रिकेट हिस्ट्री में अब तक वनडे मैचों में 7 डबल सेंचुरी लगी है। इसमें से अकेले रोहित शर्मा ने ही 3 बार डबल सेंचुरी लगाई है। रोहित शर्मा दुनिया के इकलौते ऐसे बैट्समैन हैं, जिनके नाम पर वनडे में तीन डबल सेंचुरी लगाने का रिकॉर्ड है। रोहित ने सबसे पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 209 रन और फिर श्रीलंका के खिलाफ 264 रन बनाए थे। रोहित के अलावा सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, क्रिस गेल और मार्टिन गप्टिन ने डबल सेंचुरी लगाई है। इसके अलावा बतौर कप्तान रोहित शर्मा ने 208 रन बनाए हैं और बतौर भारतीय कप्तान एक इनिंग में सबसे ज्यादा स्कोर बनाने के मामले में रोहित दूसरे नंबर पर हैं। उनसे आगे वीरेंद्र सहवाग हैं, जिन्होंने साल 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलते हुए 219 रन बनाए थे।


2. रोहित ने 1 कैलेंडर ईयर में लगाए सबसे अधिक छक्के
भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ खेले गए T-20 मुकाबले में सिर्फ 1 छक्का मारकर क्रिस गेल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। रोहित ने 1 कैलेंडर ईयर में सबसे अधिक छक्के लगाने के गेल के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। T-20 सीरीज के अंतिम मुकाबले में रोहित शर्मा ने 20 गेंदों में 4 चौके और 1 छक्का की मदद से 27 रन की पारी खेली। इस मैच के इकलौते छक्के की मदद से रोहित ने वेस्ट इंडीज के क्रिस गेल के 64 छक्कों का वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ दिया। इस एक छक्के के साथ ही रोहित ने कैलेंडर ईयर में सबसे अधिक 65 छक्कों का वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम कर दिया है। रोहित ने इस साल टेस्ट, वनडे और T-20 में कुल 65 छक्के जड़े हैं। उन्होंने 21 वनडे में 1293 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 6 सेंचुरी और 5 हाफ सेंचुरी लगाई। इसमें 46 छक्के शामिल हैं।


3. 35 गेंद पर शतक
इंदौर में हुए श्रीलंका के साथ टी-20 मैच में रोहित शर्मा ने सिर्फ 35 बॉलों में ही अपनी सेंचुरी लगाई। इसी के साथ टी-20 क्रिकेट में सबसे तेज सेंचुरी लगाने के रिकॉर्ड की बराबरी भी रोहित ने कर ली है। टी-20 में सबसे तेज सेंचुरी लगाने का रिकॉर्ड साउथ अफ्रीका के डेविड मिलर के नाम है। मिलर ने भी अपनी सेंचुरी 35 बॉलों में लगाई थी। इसी लिस्ट में चौथे नंबर पर टीम इंडिया की तरफ से केएल राहुल का नाम भी है, जिन्होंने साल 2016 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 46 बॉलों में सेंचुरी ठोकी थी।


4. साल 2017 में रोहित ने बनाई 6 सेंचुरी
इसके अलावा साल-2017 में रोहित शर्मा अब तक 6 सेंचुरी लगा चुके हैं और इसी के साथ एक साल में इंडिया की तरफ से सबसे ज्यादा सेंचुरी लगाने के मामले में रोहित नंबर-3 पर हैं। एक साल में सबसे ज्यादा सेंचुरी लगाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है। सचिन ने साल 1998 में 9 सेंचुरी लगाई थी, वहीं इस मामले में सौरव गांगुली 7 सेंचुरी (साल-2000) के साथ दूसरे नंबर पर है। जबकि इसी साल यानी 2017 में टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली भी अब तक 6 सेंचुरी लगा चुके हैं।


5. वनडे में 151 गेंदों पर 490 रनों की ताबड़तोड़ पारी
साउथ अफ्रीका के 20 वर्षीय युवा बल्लेबाज शेन डैड्सवेल ने वनडे मैच में एक शानदार रिकॉर्ड कायम कर दिया है। इस अफ्रीकी बल्लेबाज ने साउथ अफ्रीका के क्लब मैच में महज 151 गेंदों पर 490 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेलते हुए क्रिकेट जगत में तहलका मचा दिया है। डैड्सवेल ने अपनी इस पारी में 27 चौके और 57 गगनचुंबी छक्के जड़े हैं। मजे की बात तो यह है कि उसने अपने बर्थडे पर यह कारनामा किया। 50 ओवर के वनडे इंटरनेशनल मुकाबले में सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड भारतीय ओपनर रोहित शर्मा के नाम है। रोहित ने 2014 में 173 गेंदों में 264 रन बनाए थे।


6. इस साल बनाए सबसे ज्यादा रन
विराट कोहली ने साल-2017 में 2818 रन बनाए, जो एक कैलेंडर ईयर में किसी भी इंडियन बैट्समैन की तरफ से अभी तक के सबसे ज्यादा रन हैं। विराट कोहली के अलावा कोई भी इंडियन प्लेयर एक साल में इतने रन नहीं बना पाया है। विराट ने इस साल टेस्ट क्रिकेट में 1059 रन, वनडे क्रिकेट में 1460 रन और टी-20 इंटरनेशनल में 299 रन बनाए हैं। इसके साथ ही विराट, एक साल में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में तीसरे नंबर के बैट्समैन बन गए हैं।


7. कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा डबल सेंचुरी
अगर टेस्ट क्रिकेट में विराट कोहली की परफॉर्मेंस की बात करें, तो यहां भी कोहली का बल्ला जमकर बोला है। विराट कोहली ने इस साल टेस्ट क्रिकेट में 3 डबल सेंचुरी लगाई, जिसको मिलाकर अब कोहली की टेस्ट में 6 डबल सेंचुरी हो गई हैं। इसमें खास बात ये है कि विराट ने ये सभी 6 डबल सेंचुरी बतौर कैप्टन मारी हैं और इसी के साथ बतौक कैप्टन टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा डबल सेंचुरी लगाने वाले विराट दुनिया के पहले बैट्समैन हैं।


8. स्टीव स्मिथ दुनिया के पहले बल्लेबाज बने
एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट मैच में इंग्लैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने कुल 178 रन बनाए। इसी के साथ स्मिथ ने साल 2017 का अंत 76.76 की औसत से 1305 टेस्ट रन बनाकर किया। इसी के साथ ही स्मिथ टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में पहले ऐसे खिलाड़ी बने, जिन्होंने लगातार 4 साल 70 से अधिक की औसत से 1000 या उससे ज्यादा रन बनाए हैं। स्टीव स्मिथ ने साल 2017 टेस्ट में सबसे ज्यादा 1305 टेस्ट रन बनाए हैं, उनसे पीछे भारत के चेतेश्वर पुजारा, साउथ अफ्रीका के डीन एल्गर और भारतीय कप्तान विराट कोहली रहे हैं।


9. श्रीलंका ने एक साल में बदले 7 कप्तान
श्रीलंकाई टीम इस समय बिल्कुल भी संघर्ष नहीं कर पा रही है और लगातार खराब प्रदर्शन कर रही है। जिसकी वजह एक साल में टीम को 7 कप्तान बदलने पड़े। साल 2017 में सबसे पहले एंजेलो मैथ्यूज ने टीम की कमान संभाली। मैथ्यूज तीनों फॉर्मेट में कप्तान थे। इसके बाद भी टीम कोई कमाल नहीं दिखा पाई और एक के बाद एक सीरीज से हाथ धोती चली गई। साल 2017 में श्रीलंका टीम ने एक नहीं बल्कि 7 कप्तान बदले हैं। ये रहे वो 7 कप्तान- एंजेलो मैथ्यूज, उपुल थरंगा, दिनेश चांदीमल, रंगना हैराथ, थिसारा परेरा, चमीरा कपुगेदरा और लसिथ मलिंगा। श्रीलंका से पहले ये अनोखा रिकॉर्ड जिम्बाब्वे और इंग्लैंड के नाम रह चुका है।


10. दिनेश कार्तिक ने बनाया शर्मनाक रिकॉर्ड
दिनेश कार्तिक ने श्रीलंका के खिलाफ धर्मशाला वनडे मैच में एक शर्मनाक रिकॉर्ड बनाया है। कार्तिक सबसे ज्यादा गेंद खेलकर शून्य पर आउट होने वाले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। श्रीलंका के खिलाफ धर्मशाला मैच में कार्तिक ने 18 गेंदों का सामना किया, जिसमें वो एक भी रन नहीं बना पाए और 0 पर आउट हो गए। इसके साथ ही उन्होंने 43 साल पुराना शर्मनाक रिकॉर्ड भी तोड़ दिया। इससे पहले एकनाथ सोलकर साल 1974 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में खेले गए वनडे मैच में 17 गेंद खेलकर बिना रन बनाए आउट हो गए थे।

कमेंट करें
eaqph