comScore

एनकाउंटर में आनंद पाल ढेर, डीएसपी ने कहा जांच को तैयार

July 27th, 2017 16:09 IST
एनकाउंटर में आनंद पाल ढेर, डीएसपी ने कहा जांच को तैयार

एजेंसी, जयपुर। राजस्थान पुलिस ने शनिवार देर रात प्रदेश के पांच लाख रुपए के कुख्यात ईनामी अपराधी आनंदपाल सिंह को एक मुठभेड़ में मार गिराया है। डेढ़ साल से उसके पीछे लगी पुलिस ने आख़िरकार चूरू जिले की रतनगढ़ तहसील के मालासर में शनिवार को इस काउंटर को अंजाम दिया। 

आला पुलिस अधिकारियों के मुताबिक मुठभेड़ के दौरान आनंदपाल ने एके-47 से करीब 100 राउंड फायर किए। जवाबी फायरिंग में पुलिस की 6 गोलियां उसके सीने में धंसने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई। डीजीपी मनोज भट्ट ने घटना की पुष्टि की है। एनकाउंटर के दौरान आनंदपाल के दो साथियों को भी गिरफ्तार करने में भी पुलिस को कामयाबी मिली है। इनके नाम देवेंद्र और गट्टू बताए जा रहे हैं।

अपराध की दुनिया में 2006 में आया : पुलिस की मानें तो आनंदपाल का क्रिमिनल रिकॉर्ड 2006 से है. उसने उसी दौरान अपराध की दुनिया में कदम रखा था. उसने उस साल डीडवाना में जीवनराम गोदारा की हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड के अलावा आनंदपाल पर डीडवाना में ही 13 मामले दर्ज थे.  8 मामलों में कोर्ट ने उसे भगौड़ा घोषित कर रखा था।

आनंदपाल सितंबर 2015 में नागौर की कोर्ट में पेशी के बाद वापस अजमेर जेल में भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच लाते समय पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया था।

आनंदपाल के बारे में बताया जाता है कि वह फेसबुक पर सक्रिय रहता था। उसका अपना फेसबुक पेज था, जिस पर उसके फैन्स भी थे। वह समाज से जुड़ी अखबारों में छपने वाली खबरों को भी पोस्ट करता था।


आनंदपाल
जयपुर
राजस्थान के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मनोज भट्ट ने कहा है कि पुलिस फोर्स, कुख्यात अपराधी आनंदपाल सिंह के एनकाउंटर मामले में किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार हैं। गौरतलब है कि पुलिस ने सिरदर्द बन चुके 5 लाख के इनामी बदमाश आनंदपाल को चुरू जिले में हुई मुठभेड़ में मार गिराया।

डीजीपी भट्ट ने कहा, 'चुरू के मालासर में बीती रात भारी संख्या में पहुंची फोर्स ने एक बिल्डिंग को घेर लिया, जिसमें आनंदपाल अपने 4-5 साथियों के साथ छिपा हुआ था। उसे सरेंडर करने को कहा गया, लेकिन उसने पुलिस टीम पर ही फायरिंग शुरू कर दी। हमारी तरफ से जवाबी कार्रवाई में उसे 5 से 6 गोलियां लगी। इस एनकाउंटर में दो पुलिसकर्मी भी घायल हो गए।'

डीजीपी ने कहा, 'इस ऑपरेशन को लेकर लोग सवाल उठा सकते हैं, लेकिन पुलिस किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार है। इस ऑपरेशन में शामिल कमांडो सोहन सिंह और कमांडो धर्मपाल सिंह को आउट ऑफ टर्न प्रोमोशन दिया जाएगा और साथ ही उन्हें वीरता पुरस्कार से भी नवाजा जाएगा। बाकी टीम को उनके प्रदर्शन के आधार पर पुरस्कार दिया जाएगा। कमांडो सोहन को पीठ पर गोली लगी है और उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं दो अन्य कॉन्सटेबल धर्मपाल सिंह और सूर्यवीर सिंह की हालत स्थिर बनी हुई है।' 

अनुराधा चौधरी से था संबंध : आनंदपाल के अनुराधा चौधरी से संबंध बताए जाते थे। अनुराध लेडी डॉन है, जो फिलहाल जेल में कैद है। वह सीकर की रहने वाली है और उसने दीपक मिंज से शादी की थी। वह शेयर मार्केट में भी पैसा लगाती थी। बताते हैं कि भारी नुकसान होने के बाद उसने आनंदपाल से हाथ मिलाया था।

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 36 | 20 April 2019 | 04:00 PM
RR
v
MI
Sawai Mansingh Stadium, Jaipur
IPL | Match 37 | 20 April 2019 | 08:00 PM
DC
v
KXIP
Feroz Shah Kotla Ground, Delhi