comScore
Dainik Bhaskar Hindi

RBI ने बंद की बड़े नोटों की सप्लाई, कई राज्यों में करंसी की किल्लत

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 13th, 2018 13:34 IST

4.2k
0
0
RBI ने बंद की बड़े नोटों की सप्लाई, कई राज्यों में करंसी की किल्लत


 

डिजिटल डेस्क । साल 2016 में हुई नोटबंदी तो आप सभी को याद होगी ही। हो भी क्यों ना, उस वक्त जिस तरह ATM's और बैंकों में रुपयों का सूखा पड़ा था, ऐसे पहले कभी नहीं हुआ था। बैंक या ATM से रुपए ना निकलना गंभीर समस्या है और ऐसे हालात से कोई दोबारा नहीं गुजरना चाहता, लेकिन एक बार फिर देश में ऐसे हालात बन रहे हैं और एक बार फिर ATM's और बैंकों में रुपयों अकाल पड़ना शुरू हो गया है। दरअसल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने बड़े नोटों की सप्लाई पर रोक लगा दी है। बैकों और ATM's तक 500 और 2000 के नोट पहुंच रहे हैं। फिलहाल ऐसे हालात केवल कुछ ही राज्यों में हैं, लेकिन अगर जल्द ही RBI ने नोट सप्लाई की सेवा बहाल नहीं कि तो हालात गंभीर हो सकते हैं। फिलहाल मध्य प्रदेश, झारखंड और नई दिल्ली में करेंसी की समस्या सामने आई है। इन राज्यों के कई लों में हालात काफी खराब है। वहीं देश की राजधानी नई दिल्ली में करंसी की किल्लत है।

करेंसी के अभाव में ATM's में रुपए निकालने वालों की बढ़ गई है। SBI के एटीएम में भी रुपए की किल्लत सिर चढ़कर बोल रही है। करंसी की कमी कब तक दूर होगी, फिलहाल इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है। जो रुपये प्रतिदिन बैंक में जमा हो रहे हैं, उसी को ATM में डालकर काम चलाया जा रहा है। जरूरतमंद व्यक्ति नोट निकासी के लिए सोमवार विभिन्न एटीएम केंद्र का चक्कर लगाते रहे, लेकिन छोटे नोट ही हाथ लगे। वहीं ATM's के बाहर काफी लंबी होने से लोगों को खासी परेशानी का सामना कर ना पड़ रहा है।

ये भी पढ़ें- अगर नहीं होगा आधार तब भी मिलती रहेंगी ये तीन सेवाएं : UIDAI 

जिले में करंसी की उपलब्धता आवश्यकता से कम है। निकट भविष्य में इस समस्या के समाधान की स्थिति भी नहीं बन रही है। नतीजतन किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक के एटीएम का संचालन नियमित नहीं हो पा रहा है। दोपहर के बाद एसबीआई समेत कुछेक निजी बैंक का एटीएम खुलते ही ग्राहकों की भीड़ उमड़ पड़ती है। देखते ही देखते केंद्रों से पैसा समाप्त हो गया। इसके बाद दोबारा नोट भरे जाने की दशा में लोग घंटों केंद्र का चक्कर काटते रहे।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download