comScore
Dainik Bhaskar Hindi

छात्रा को बदनाम करने बनाया फर्जी फेसबुक अकाउंट, बदला लेने रचा था षड़यंत्र

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 14th, 2018 14:41 IST

5k
0
0
छात्रा को बदनाम करने बनाया फर्जी फेसबुक अकाउंट, बदला लेने रचा था षड़यंत्र

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। खमरिया क्षेत्र में रहने वाली  एक छात्रा का फर्जी फेस बुक अकाउंट बनाकर उसे बदनाम करने वाले एक छात्र को साइबर सेल ने गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में खमरिया क्षेत्र में रहने वाली एक छात्रा ने शिकायत दी थी कि उसके स्कूल में पढ़ने वाले रांझी क्षेत्र के निवासी शुभम साकेत ने उसकी फोटो लगाकर फर्जी फेस बुक अकाउंट बनाया और फिर उसे बदनाम करने के लिए फर्जी पोस्ट किये। इस शिकायत पर जबलपुर स्थित साइबर सेल की टीम को एसपी सुदीप गोयनका ने कार्रवाई के लिए कहा।

निरीक्षक हरिओम दीक्षित, विनिता करौसिया, विमल कुमार, आलोक चौबे, भाग्यश्री गोस्वामी की टीम ने इस मामले की सच्चाई का पता लगाया तो जानकारी मिली कि छात्रा से शुभम साकेत का झगड़ा हुआ था। उसके बाद शुभम ने बदनाम करने के लिए ही छात्रा का एफबी अकाउंट बनाकर उसे बदनाम करने की कोशिश की। पकड़े जाने के बाद शुभम ने स्वीकार किया है कि उसने ही फर्जी पोस्ट डाली थी। साइबर सेल ने शुभम को आईटी एक्ट की धारा 66 सी के तहत गिरफ्तार कर लिया है।

पापा को फंदे पर देख चीखी मासूम
केंट थाना क्षेत्र स्थित सदर लियो कम्पाउंड में रहने वाले सुमित रजक 35 वर्षीय ने बीती रात करीब 8 बजे अपने घर के किचन में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुमित निजी फाइनेंस कंपनी में काम करता था, जो शाम 7 बजे ऑफिस से लौटकर घर आया था। सुमित की मां और पत्नी तीजा व्रत रखे हुए थीं, जिन्होंने सुमित से मंदिर ले चलने के लिए कहा था। पत्नी अपने कमरे में तैयार हो रही, तभी उसकी पांच वर्षीय बेटी के जोर से चीखने पर परिवार के सभी सदस्य किचन के पास पहुंचे तो सुमित फंदे पर मृत झूल रहा था, इसके बाद कोहराम मच गया।

सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और शव को पीएम के लिए भिजवाकर मर्ग जांच शुरू हुई। पुलिस का कहना है कि फिलहाल किसी तरह का सुसाइड नोट नहीं मिल सका है, जिसके कारण मौत का कारण अज्ञात है। सुमित के भाई प्रशांत ने बताया कि उसका भाई मिलनसार और हंसमुख स्वाभाव का था, नौकरी को लेकर भी उसने कभी कोई परेशानी जैसी बात नहीं बताई थी। सुमित की मौत से पूरा परिवार गहरे सदमे में हैं।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर