comScore

आपकी जेब खाली कर देगी किसानों की कर्जमाफी !

July 27th, 2017 16:03 IST
आपकी जेब खाली कर देगी किसानों की कर्जमाफी !

टीम डिजिटल, नई दिल्ली. देशभर में हुए किसान कर्जमाफी आंदोलन के बाद कई राज्यों ने कर्जमाफ भी कर दिया है, लेकिन इसका सीधा असर आम आदमी की जेब पर ही पड़ने वाला है. आरबीआई अधिकारियों की मानें तो इस कर्जमाफी का असर देश की अर्थव्यवस्था पर काफी बुरा होगा. मंहगाई बढ़ सकती है, जिससे आम आदमी की जेब और खाली होगी.

अर्थशास्त्री और आरबीआई के निदेशक बोर्ड के सदस्य राजीव कुमार का कहना है कि मौजूदा महौल में किसानों का कर्ज माफ करना खतरनाक साबित हो सकता है. राज्यों को ये बात समझानी चाहिए कि इतनी बड़ी राशि को वे अपने खजाने से कैसे भरेंगे.

बता दें कि किसानों की कर्जमाफी से डिफॉल्टरों को प्रोत्साहन मिलेगा जिससे बैंको को बड़ा नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है और जाहिर सी बात है अगर बैंक को नुकसान होगा तो इसका असर आम आदमी की जेब पर तो पड़ेगा ही. साथ ही भारतीय रिजर्व बैंक के ब्याज दरें न कम करने की वजह से महंगाई और बढ़ जाएगी.

गौरतलब है कि हाल ही में महाराष्ट्र सरकार ने किसानों की कर्जमाफी का ऐलान किया था. एमपी में भी सरकार किसानों के कर्ज पर ब्याजमाफी का ऐलान कर चुकी है. यूपी में योगी सरकार पहले ही किसानों का कर्ज माफ कर चुकी है. उधर राज्यों द्वारा किसानों की कर्जमाफी पर रिजर्व बैंक पहले ही चिंता जता चुका है. RBI ने कहा है कि किसानों की कर्ज माफी से वित्‍तीय मोर्चे पर हालात खराब हो सकते हैं. इससे महंगाई बढ़ सकती है.

40 अरब डॉलर की कर्ज माफ़ी सम्भव 

बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच ने कहा है कि भारत में जिस तरह से राजनीति हो रही है, उसे देखते हुए 2019 तक 2,47,000 करोड़ रुपए (40 अरब डॉलर) का कृषि कर्ज माफ किया जा सकता है. बैंक का कहना है कि वर्ष 2019 का आम चुनाव करीब आते ही यह मुद्दा और गरम हो सकता है. जाहिर है कि यह सारा बोझ अंतत: राज्यों को ही उठाना पड़ेगा. जिसका अप्रत्यक्ष असर आम आदमी पर भी पड़ेगा.

देश की एक रेटिंग कंपनी ने अनुमान लगाया है कि राज्य सरकारों की तरफ से किसानों के कर्ज माफी के फैसले आने वाले कई वर्षों तक इनकी वित्तीय स्थिति को प्रभावित करते रहेंगे. वर्ष 2017-18 में राज्यों ने राजकोषीय घाटे को संयुक्त तौर पर 1.53 फीसदी पर सीमित करने का लक्ष्य रखा है. यह कर्ज माफी के बोझ की वजह से बढ़कर 2.71 फीसदी हो सकता है. राज्यों पर कर्ज का बोझ 16.2 फीसदीी से बढ़कर 17.44 फीसदीी हो सकता है.

यूपी में कर्जमाफी

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने किसानों की कर्जमाफी का फॉर्मूला तैयार कर लिया है. यूपी सरकार साढ़े सोलह हजार करोड़ रुपए का कर्ज लेगी और करीब बीस हजार करोड़ अलग-अलग विभागों का बजट काटकर जुटाया जाएगा. जल्द ही इसका एलान भी हो जाएगा.

योगी सरकार को किसानों की कर्जमाफी के लिए करीब 36 हजार करोड़ रुपए की जरुरत है. इसलिए यूपी सरकार ने फैसला लिया है कि सरकार साढे 16 हज़ार करोड़ रुपए कर्ज लेगी और करीब बीस हज़ार करोड़ का इंतजाम अलग-अलग विभागों के बजट में कटौती करके किया जाएगा.

राहुल गांधी का पीएम मोदी पर हमला

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला बोला एक अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा है, "बेरोजगारी देश के सामने बड़ी चुनौती है. आज पीएम मोदी के राज में पांच साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है. आज लोगों के अंदर गुस्सा और असंतोष है. और मोदी, आरएसएस और बीजेपी की विचारधारा इस गुस्से का इस्तेमाल समाज में नफरत फैलाने के लिए कर रही है."

कमेंट करें
QlxMn