comScore
Dainik Bhaskar Hindi

मानहानि मामले में राहुल गांधी पर आरोप तय, राहुल बोले - मैं दोषी नहीं

BhaskarHindi.com | Last Modified - June 12th, 2018 22:02 IST

2.6k
0
0

News Highlights

  • राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (RSS) के खिलाफ कथित टिप्पणी करने के मामले में आज राहुल गांधी महाराष्ट्र के भिवंडी कोर्ट में पेश हुए।
  • भिवंडी कोर्ट ने राहुल गांधी पर आरोप तय कर दिए हैं।
  • 6 मार्च 2014 को मुंबई के भिवंडी इलाके में एक रैली में राहुल गांधी ने बयान देते हुए कहा था कि आरएसएस के लोगों ने महात्मा गांधी को मारा था।
  • राहुल गांधी के इस बयान के बाद एक आरएसएस कार्यकर्ता सचिव राजेश कुंटे ने राहुल गांधी के खिलाफ भिवंडी की लोकल कोर्ट में आपराधिक मामला दर्ज करवाया था।
  • राजेश का आरोप था कि राहुल के इस बयान से संघ की छवि खराब हुई है।


डिजिटल डेस्क, मुंबई। राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (RSS) के खिलाफ कथित टिप्पणी करने के मामले में आज राहुल गांधी महाराष्ट्र के भिवंडी कोर्ट में पेश हुए। भिवंडी कोर्ट ने राहुल गांधी पर आरोप तय कर दिए हैं। इस पेशी के लिए वे आज सुबह मुंबई एयरपोर्ट पहुंचे। यहां उन्हें रिसीव करने कांग्रेस नेता संजय निरूपम और अशोक चव्हाण पहुंचे।


बता दें कि 6 मार्च 2014 को मुंबई के भिवंडी इलाके में एक रैली में राहुल गांधी ने बयान देते हुए कहा था कि आरएसएस के लोगों ने महात्मा गांधी को मारा था। राहुल गांधी के इस बयान के बाद एक आरएसएस कार्यकर्ता सचिव राजेश कुंटे ने राहुल गांधी के खिलाफ भिवंडी की लोकल कोर्ट में आपराधिक मामला दर्ज करवाया था। राजेश का आरोप था कि राहुल के इस बयान से संघ की छवि खराब हुई है।

इस मामले में मई 2015 में राहुल ने इस पूरे मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर इस केस को खारिज करने की मांग की थी, लेकिन कोर्ट ने राहुल की इस अपील को स्वीकार नहीं किया था। कोर्ट ने इस मामले में राहुल को माफी मांगने के लिए कहा गया था। जवाब में कांग्रेस पार्टी ने कहा था कि राहुल किसी भी हाल में माफी नहीं मांगेंगे। वे कोर्ट में मानहानि के मामले में ट्रायल का सामना करेंगे और अदालत के सामने सभी सबूत पेश करेंगे।

बता दें कि कोर्ट में पेशी के बाद राहुल गांधी मुंबई के गोरेगांव में कांग्रेस पार्टी के नगर सेवकों से संवाद करेंगे। राहुल गांधी यहां शक्ति नाम से एक प्रोग्राम की शुरूआत करेंगे, जिससे पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद कायम किया जा सकता है। इस प्रोग्राम पर मुंबई कांग्रेस के प्रमुख संजय निरूपम ने कहा है कि यह एक खास पहल है। उन्होंने कहा कि ‘शक्ति’ प्रोग्राम से न सिर्फ जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं से जुड़ने में मदद मिलेगी बल्कि यह भी सुनिश्चित हो सकेगा कि यदि उनकी कोई शिकायत है तो उनका तत्काल समाधान हो सके।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर