comScore
Dainik Bhaskar Hindi

'कैंची' नहीं मिलने पर क्यों आग बबूला हुए बीजेपी सांसद?

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 23rd, 2018 21:14 IST

2.5k
0
0

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। बीजेपी के सीनियर लीडर और सांसद मुरली मनोहर जोशी उस वक्त अपना आपा खो बैठे, जब उद्घाटन प्रोग्राम के दौरान उन्हें रिबन काटने के लिए कैंची नहीं मिली। कानपुर में एक इनॉगरेशन प्रोग्राम में बतौर चीफ गेस्ट डीएम ऑफिस पहुंचे बीजेपी सांसद मुरली मनोहर जोशी को रिबन काटने के लिए कैंची नहीं मिली। इस बात से उन्हें इतना गुस्सा आ गया कि फिर उन्होंने हाथ से ही रिबन को उखाड़ फेंका। बीजेपी सांसद का एक वीडियो भी इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है, जिसमें उनका गुस्सा साफ दिखाई दे रहा है। इतना ही नहीं इसके बाद उन्होंने वहां मौजूद अधिकारियों को भी जमकर लताड़ लगाई।


गुस्से में रिबन ही उखाड़ दिया

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीजेपी सांसद मुरली मनोहर जोशी कानपुर में सोलर लाइट पैनल का उद्घाटन करने डीएम ऑफिस पहुंचे थे। यहां पहुंचक उन्होंने रिबन काटने के लिए कैंची मांगी, तो अधिकारी एक-दूसरे को देखने लगे। इस बात से जोशी इतना नाराज हुए कि उन्होंने खंभे से बंधे रिबन को अपने हाथ से ही निकाल दिया और कहा कि अब कोई जरूरत नहीं है, उद्घाटन हो चुका है। इसके बाद जोशी वहां से नाराज होकर चले गए।

अधिकारियों को कहा- बेशर्म हैं आप

बताया जा रहा है कि जब मुरली मनोहर जोशी यहां पहुंचे, तो वहां पहले से ही अधिकारियों का बर्ताव सही नहीं था। इस बात से ही जोशी नाराज हो गए थे। इसके बाद जब रिबन काटने के लिए उन्हें कैंची नहीं मिली, तो उनका गुस्सा बढ़ गया और उन्होंने हाथ से ही खंभे पर बंधे रिबन को हाथ से ही निकाल दिया। बताया जा रहा है कि इसके बाद जोशी ने वहां मौजूद अधिकारियों को लताड़ भी लगाई। रिबन निकालने के बाद उन्होंने अधिकारियों से कहा कि 'अब कैंची की कोई जरूरत नहीं है। उद्घाटन हो चुका है।' उन्होंने अधिकारियों को लताड़ते हुए कहा कि 'आप ऑर्गनाइजर्स हैं? ये कैसा बर्ताव है आपका? शर्म नहीं आती आपको?' ये सब कहने के बाद जोशी गुस्से में वहां से तुरंत चले गए।

अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

वहीं, डीएम सुरेंद्र सिंह ने इस बात को मानते हुए मीडिया से कहा कि 'बीजेपी सांसद मुरली मनोहर जोशी उद्घाटन में रिबन काटने के लिए कैंची ना मिलने से नाराज हो गए थे। उन्होंने वहां अधिकारियों को डांटा भी और अपने हाथ से रिबन को निकाल दिया।' उन्होंने बताया कि 'दरअसल, प्रोग्राम के दौरान कैंची किसी चीज के नीचे दब गई थी, जिस वजह से वो तुरंत नहीं मिल सके।' डीएम सिंह ने ये भी कहा कि वहां मौजूद अधिकारियों से इस बारे में जवाब मांगा गया है और दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download