comScore
Dainik Bhaskar Hindi

नोटबंदी, इकोनाॅमिक हिस्ट्री में सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाला निर्णय: US रिपोर्ट

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 16:29 IST

1.3k
0
0
नोटबंदी, इकोनाॅमिक हिस्ट्री में सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाला निर्णय: US रिपोर्ट

टीम डिजिटल, वाशिंगटन.  मोदी का नोटबंदी का फैसला एक बार फिर सुर्खियों में है लेकिन इस बार सिर्फ भारत में नहीं, बल्कि अमेरिका में. अमेरिका की एक टॉप मैग्ज़ीन का दावा है कि नरेंद्र मोदी का नोटबंदी का फैसला हाल ही इकोनॉमिक हिस्ट्री में देश को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाला एक्सपेरिमेंट साबित हुआ. नोटबंदी के चलते भारत की कैश आधारित इकोनॉमी में एक ठहराव सा आ गया. 

फॉरेन अफेयर्स मैगजीन के ताजा इश्यू में राइटर जेम्स क्रेबट्री ने लिखा, अब मोदी एडमिनिस्ट्रेशन को अपनी गलतियों से सीख लेनी चाहिए. Demonetisation ने साबित कर दिया कि वह सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाला एक्सपेरिमेंट था. 

क्रेबट्री लिखते हैं, मोदी के इकोनॉमिक अचीवमेंट्स तो सही हैं लेकिन उनके ग्रोथ लाने वाले रिफॉर्म्स ने लोगों को एक तरह से निराश किया. नोटबंदी के लिए सरकार ने जितने बड़े स्तर पर काम किया, उसने अर्थव्यवस्था पर उतना असर नहीं डाला. हालांकि ये फैसला काफी पॉपुलर हुआ. मोदी के इस फैसले ने जीडीपी पर ज्यादा असर नहीं डाला. अगर वे 2019 के चुनावों को देख रहे हैं तो इसके लिए उन्हें पिछले सबक से सीखने में मुश्किल नहीं आएगी. क्रेबट्री सिंगापुर में ली कुआन यू स्कूल ऑफ पब्लिक पॉलिसी में सीनियर रिसर्च फैलो हैं. वे भारत में नोटबंदी की काफी आलोचना करते रहे हैं. मोदी ने 8 नवंबर को 500-1000 के पुराने नोट बंद कर दिए थे. 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download