comScore
Dainik Bhaskar Hindi

चीन कुछ भी कहे, जारी रहेगा पूर्वोत्तर में विकास कार्य

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 14:27 IST

693
0
0
चीन कुछ भी कहे, जारी रहेगा पूर्वोत्तर में विकास कार्य

एजेंसियां, नई दिल्ली. अरूणाचल प्रदेश में ढांचागत सुविधाओं के निर्माण पर चीन की आपत्तियों के बीच पूर्वोत्तर मामले एवं प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने दो टूक शब्दों में कहा है कि पूर्वोत्तर में चाहे जो भी परिस्थितियां हों किसी भी तरह के विकास कार्य में कोई ढील नहीं दी जाएगी।

राज्य मंत्री सिंह ने कहा ,‘सुरक्षा माहौल चाहे जो भी जो सीमावर्ती इलाकों समेत पूर्वोत्तर में विकास की गतिविधियां रुकने वाली नहीं है। ’ उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पूर्वोत्तर के विकास पर विशेष ध्यान दे रही है और इसके लिए धन की कमी नहीं होने दी जाएगी । इसी के मद्देनजर पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय (डोनेर )का बजट 55000 करोड़ रुपये रखा गया है। हम क्षेत्र में तीव्रता से काम कर रहे हैं और परियोजनाएं पहले की अपेक्षा तेज गति से पूरी हो रही हैं।

गौरतलब है कि अरूणाचल प्रदेश को असम से जोड़ने वाले देश के सबसे लंबे ढोला -सादिया पुल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 26 मई को उद्घाटन किये जाने पर चीन ने अपनी सीमा से लगे इस राज्य में ढांचागत सुविधाओं के निर्माण पर आपत्ति जताते हुए कहा था कि भारत को इस मामले में संयम बनाये रखना चाहिये । चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा था कि सीमा पर शांति बनाये रखने के लिए सीमा विवाद के अंतिम निपटारे तक भारत को संयम बरतना चाहिए। चीन तिब्बतियों के आध्यात्मिक गुरु दलाई लाम की गत अप्रैल में अरूणाचल प्रदेश की यात्रा पर भी आपत्ति जता चुका है । वह इस राज्य के बडे हिस्से पर अपना दावा करता है 1 चीन की आपत्ति से जुडे सवालों पर सीधी टिप्पणी करने से बचते हुए डा सिंह ने कहा कि विदेश मंत्रालय कूटनीतिक तौर पर इस पर ध्यान दे रहा है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर