comScore
Dainik Bhaskar Hindi

क्रुणाल को सिंगल नहीं देने पर कार्तिक ने तोड़ी चुप्पी, बोले- विश्वास था छक्का मारूंगा

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 14th, 2019 01:15 IST

2.1k
0
0
क्रुणाल को सिंगल नहीं देने पर कार्तिक ने तोड़ी चुप्पी, बोले- विश्वास था छक्का मारूंगा

News Highlights

  • दिनेश कार्तिक ने आखिरी टी-20 में क्रुणाल पंड्या को स्ट्राइक नहीं देने पर चुप्पी तोड़ी है।
  • कार्तिक ने कहा कि उन्हें यकीन था कि वह छक्का मार सकते हैं।
  • भारत अंतिम ओवर में 16 रन में से केवल 11 रन ही बना सकी थी।


डिजिटल डेस्क, वेलिंगटन। भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए तीसरे और आखिरी टी-20 में क्रुणाल पंड्या को स्ट्राइक नहीं देने पर चुप्पी तोड़ी है। कार्तिक ने कहा कि उन्होंने स्ट्राइक नहीं दी क्योंकि उन्हें यकीन था कि वह छक्का मार सकते हैं। बता दें कि भारत को अंतिम ओवर में जीतने के लिए 16 रन की जरूरत थी, लेकिन भारतीय टीम केवल 11 रन ही बना सकी। अंतिम ओवर की तीसरी गेंद पर कार्तिक ने क्रुणाल को सिंगल लेने से मना कर दिया। इसको लेकर कार्तिक को खूब ट्रोल किया गया था।

दिनेश कार्तिक ने कहा, मुझे लगता है कि मैंने और क्रुणाल ने अच्छी बल्लेबाजी की। जब हम मैदान पर उतरे तो 145 पर छह विकेट गिर चुके थे। हमने पार्टनरशिप की और न्यूजीलैंड के गेंदबाजों पर दबाव बनाया। हम मैच को उस स्थिति में लाने में कामयाब रहे, जहां विपक्षी टीम के गेंदबाज दबाव में थे। मुझे पूरा भरोसा था कि हम मैच जीत जाएंगे। मैंने यही सोचकर रन नहीं लिया, क्योंकि मुझे खुद पर भरोसा था कि मैं छक्का मार कर मैच जीता दूंगा। 

कार्तिक ने कहा, मिडिल ऑर्डर में खेल रहे बल्लेबाज को अपनी काबीलियत पर विश्वास होना चाहिए। कई बार मैच में दबाव में बड़े शॉट मारने होते हैं और मिडिल ऑर्डर का बल्लेबाज यह करने में सक्षम होता है। इसके लिए आपको आपके सामने वाले बल्लेबाज पर भी भरोसा करना जरूरी होता है। हालांकि मैं उस दिन मैच में शॉट नहीं मार सका और आउट हो गया, लेकिन क्रिकेट में ऐसी चीजें होती रहती हैं। यह बात टीम मैनेजमेंट भी जानती है और वह हमारा सपोर्ट भी करते हैं।

बता दें कि तीसरे और आखिरी टी-20 मैच में भारत 16वें ओवर तक 6 विकेट के नुकसान पर 145 रन बना लिए थे। भारत को जीतने के लिए अंतिम 28 गेंदों पर 68 रन की जरूरत थी। क्रीज पर दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पंड्या मौजूद थे। इन दोनों ने शानदार पारी खेलते हुए चौके- छक्कों की भरमार कर दी। हालांकि भारतीय टीम यह रन बनाने में नाकामयाब रही और 28 गेंदों पर केवल 63 रन ही बना सकी। इस तरह भारतीय टीम 4 रनों से यह मैच हार गई। भारत ने यह सीरीज 2-1 से गंवा दी।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download