comScore

बंद हो सकती है डी.लिट और डी.एससी डिग्रियां, मानद उपाधियों पर भी शर्त

November 24th, 2018 00:10 IST
बंद हो सकती है डी.लिट और डी.एससी डिग्रियां, मानद उपाधियों पर भी शर्त

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय अपने यहां दी जाने वाली डी.लिट/डी.एससी बाय रिसर्च की डिग्रियां बंद करने का विचार कर रहा है। यूनिवर्सिटी का तर्क है कि, नए विश्वविद्यालय अधिनियम-2016 में इस तरह की किसी भी डिग्री का जिक्र नहीं है। प्रदेश के अन्य विश्वविद्यालयों ने अपने यहां पहले ही ये डिग्रियां बद कर दी हैं। ऐसे में नागपुर विश्वविद्यालय भी इसी राह पर चल निकला है। यूनिवर्सिटी दीक्षांत समारोह में एक ही उपाधि  देने के अधिनियम को भी अमल में लाने जा रहा है। जिससे एक साथ दो उपाधि अभी नहीं दी जाएगी। 

बोर्ड ऑफ डीन्स की बैठक में रखा जाएगा प्रस्ताव
विवि प्र-कुलगुरु डॉ. प्रमोद येवले के अनुसार नए अधिनियम में इस तरह की डिग्रियों का जिक्र नहीं है। इसलिए अभी विवि ने इस पर विचार शुरू किया है। जल्द ही होने वाली विवि की बोर्ड आॅफ डीन्स की बैठक में इस दिशा मंे प्रस्ताव रखा जाएगा। उसके बाद एकेडमिक काउंसिल में यह प्रस्ताव लाया जाएगा। सभी जरूरी अनुमतियां मिलने के बाद संभव है कि, विवि ये डिग्रियां बंद कर दें। उल्लेखनीय है कि, विवि ने केवल डी.लिट/डी.एससी बाय रिसर्च की डिग्रियां बंद करने का मन बनाया है। डी.लिट/डी.एससी की मानद उपाधियां बंद नहीं होंगी, विवि इन्हें जारी रखेगा, किंतु नए अधिनियम के मुताबिक विवि एक दीक्षांत समारोह में विवि अधिकतम दो ही मानद डी.लिट/डी.एससी उपाधियां दे सकेगा। डॉ. येवले ने यूनिवर्सिटी के आगामी रूपरेखा की  जानकारी दी।

मानद उपाधियों के 25 प्रस्ताव विचाराधीन
उल्लेखनीय है कि मौजूदा वक्त में यूनिवर्सिटी  के पास मानद उपाधियों के 25 प्रस्ताव विचाराधीन हैं। बता दें कि, डी.लिट/डी.एससी की डिग्रियां शिक्षा क्षेत्र की उच्चतम डिग्रियां होती हैं। पीएचडी के बाद किए गए संशोधन के अधार पर ये डिग्रियां आवंटित की जाती हैं, लेकिन नए नियमों के हवाले से यूनिवर्सिटी अब इन्हें बंद करने की तैयारी कर रहा है। बता दें यूनिवर्सिटी समय के साथ चलने वाले नए पाठ्यक्रमों को भी शुरू कर रहा है ।

कमेंट करें
qF3RD