comScore
Dainik Bhaskar Hindi

30 रुपए में भूखे रहते हैं डॉग, मनपा के डॉग शेल्डर में अनियमितता

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 03rd, 2018 16:39 IST

1.7k
0
0
30 रुपए में भूखे रहते हैं डॉग, मनपा के डॉग शेल्डर में अनियमितता

डिजिटल डेस्क, नागपुर। इन दिनों भांडेवाड़ी स्थित पशुनिवारन केन्द्र में श्वान को अच्छा खाना नहीं मिल रहा है। मनपा की ओेर से एक श्वान के पीछे 30 रुपये खर्च किये जाते हैं। बावजूद इसके उन्हें अच्छा खाना नहीं मिल पाना कई सवालों को खड़ा करता है।   मनपा के डॉग शेल़्टर में श्वान के खान-पान में भारी लापरवाही बरतने के दृश्य सामने आ रहा है। हालांकि मनपा का पशु विभाग सब कुछ ठीक रहने की बात कह रहा है।

उल्लेखनीय है कि भांडेवाड़ी के डंपिंग यार्ड के बगल में पशुनिवारण केन्द्र बना है। नागपुर शहर में सड़क हादसों में या अन्य कारणों से घायल होनेवाले श्वान, सुअर व बिल्ली को यहां आश्रय दिया जाता है। यहीं पर चिकित्सा सुविधा देकर उन्हें स्वस्थ बनाकर उनके  क्षेत्र में छोड़ दिया जाता है। सूत्रों के अनुसार इन दिनों यहां खान-पान व्यवस्था में भारी लापरवाही बरती जा रही है। रोजाना यहां 2 से 5 श्वान को लाया जाता है। ऐसे में यहां वर्तमान स्थिति में 50 से 60 डॉग हैं। नियमानुसार इन्हें सुबह- शाम पौष्टिक खाना दिया जाना चाहिए। लेकिन बताया गया कि, यहां पर श्वान के खाने में भारी लापरवाही हो रही है। श्वान को मिलनेवाले खाने में पेडीग्री का भी उपयोग नहीं होता है। वहीं मांस भी उन्हें पर्याप्त मात्रा में नहीं मिल रहा है। ऐसे में श्वान का ठीक से पेट भी नहीं भर पा रहा है। दूध भी उन्हें पर्याप्त नहीं दिया जाता है।

बचत गट के माध्यम से हो रहा कामकाज

बताया गया कि यहां खान-पान का जिम्मा बचत गट को दिया गया है। जिसके लिए प्रति माह मनपा 1 लाख से डेढ़ लाख खर्च करती है। ऐसे में खाना अच्छे दर्जे का मिलना अपेक्षित है। लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। इसके अलावा डॉग के रहने की व्यवस्था भी ठीक नहीं है।

निर्देशानुसार ही दिया जाता है भोजन

हमारी ओर से वहां 3 पशुचिकित्सक रखे हैं। जिनके निर्देशानुसार ही श्वान को खाना दिया जाता है। ऐसे में खाने का दर्जा एकदम सही है।
 डॉ. जी. महल्ले, वेटरनरी ऑफिसर, मनपा नागपुर

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें