comScore
Dainik Bhaskar Hindi

इथियोपिया हादसे के बाद अब अमेरिका ने भी लगाया बोइंग 737 मैक्स विमानों पर बैन

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 14th, 2019 01:11 IST

1.7k
0
0
इथियोपिया हादसे के बाद अब अमेरिका ने भी लगाया बोइंग 737 मैक्स विमानों पर बैन

News Highlights

  • राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बोइंग के 737 मैक्स विमानों की उड़ान पर रोक लगाने का ऐलान किया है।
  • इथियोपिया में रविवार को हुए विमान हादसे के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ने फैसला लिया है।
  • बता दें कि बोइंग एक अमेरिकन विमान निर्माता कंपनी है।


डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकन रेगुलेटर के फैसले को पलटते हुए बोइंग के 737 मैक्स विमानों की उड़ान पर रोक लगाने का ऐलान किया है। इथियोपिया में रविवार को हुए विमान हादसे के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ने फैसला लिया है। बता दें कि बोइंग एक अमेरिकन विमान निर्माता कंपनी  है।

फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन ने बोइंग 737 मैक्स विमानों को ग्राउंड करने से मना कर दिया था, जबकि करीब 42 देशों ने इन विमानों की उड़ान पर प्रतिबंध लगा चुकी है। प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, अमेरिकी लोगों की सुरक्षा हमारे लिए सर्वोपरि है। ट्रंप का यह आदेश कनाडा के परिवहन मंत्री मार्क गार्नेउ के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि सैटेलाइन-ट्रैकिंग डेटा इथियोपिया की दुर्घटना और पिछले अक्टूबर में हुए विमान हादसे के बीच समानता बता रहा है।

उन्होंने कहा था कि इथियोपियन जेट के टेक ऑफ के समय का सैटेलाइट ट्रेसिंग डेटा और लॉयन एयर क्रैश का डेटा लगभग एक जैसा है। दोनों ही विमानों के टेक ऑफ के समय वर्टिकल फ्लकचुएशन नजर आ रहे हैं।

इथियोपिया एयरलाइंस की फ्लाइट 302 के दुर्घटनाग्रस्त होने से उसमें सवार सभी 157 लोगों की मौत हो गई थी। यह हादसा विमान के टेकऑफ के कुछ ही मिनटों बाद हुआ था। पिछले साल अक्टूबर में एक इंडोनेशियाई वाहक लायन एयरवेज का बोइंग 737 मैक्स 8 प्लेन इसी तरह की परिस्थिति में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में 189 लोग मारे गए थे।

बता दें कि इथियोपिया में रविवार को हुए विमान हादसे के बाद कई देशों ने अपने एयरस्पेस में बोइंग 737 मैक्स-8 विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी है। इसमें भारत समेत चीन, सिंगापुर, आयरलैंड, इंडोनेशिया, मलेशिया, अर्जेंटिना, दक्षिण कोरिया, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी और फ्रांस जैसे देश शामिल है। यात्रियों की चिंताओं को देखते हुए ये कदम उठाया गया है।

तमाम देशों की रोक के बाद बोइंग ने अपनी सफाई भी पेश की थी। बोइंग कंपनी की तरफ से जारी बयान में कहा गया था कि सुरक्षा बोइंग की नंबर एक प्राथमिकता है और हमें 737 मैक्स की सुरक्षा पर पूरा भरोसा है। बोइंग ने कहा था कि इथियोपियन एयरलाइंस के हादसे का उन्हें गहरा दुख है। वह यात्रियों और चालक दल के परिवारों के लिए सहानुभूति व्यक्त करते हैं और इथियोपियाई एयरलाइंस टीम का समर्थन करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download