comScore

दुती चंद ने रचा इतिहास, ग्लोबल इवेंट में गोल्ड जीतने वाली पहली भारतीय

दुती चंद ने रचा इतिहास, ग्लोबल इवेंट में गोल्ड जीतने वाली पहली भारतीय

हाईलाइट

  • दुती ने 100 मीटर स्पर्धा में 11.32 सेकेंड का समय निकालकर गोल्ड मेंडल जीता
  • भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दूती को इस उपलब्धि पर बधाई दी

डिजिटल डेस्क, नेपल्स (इटली)। भारत की महिला धावक दुती चंद ने सोमवार को 30वें वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में गोल्ड जीतकर इतिहास रच दिया है। दुती महिलाओं के ट्रैक एंड फील्ड इवेंट्स में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय बन गई हैं। उन्होंने 100 मीटर स्पर्धा में 11.32 सेकेंड का समय निकालकर गोल्ड मेडल पर कब्जा किया है। इससे पहले सेमीफाइल हीट में मंगलवार को 23 साल की दूती ने 11.41 सेकेंड का समय निकालकर फाइनल के लिए क्वालीफाई किया था। खेल के इस संस्करण में भारत के लिए यह पहला गोल्ड मेडल है। इससे पहले, यूनिवर्सिटी गेम्स के इतिहास में किसी भी भारतीय खिलाड़ी ने 100 मीटर स्पर्धा के फाइनल में भी जगह नहीं बनाई थी। 

दुती ने बुधवार को ट्वीट किया, सालो की मेहनत और आपकी दुआओं के कारण मैंने एक बार फिर नेपल्स में गोल्ड मेडल अपने नाम किया। उन्होंने गोल्ड मेडल के साथ भी अपनी एक फोटो पोस्ट की और उसे कैप्शन दिया, इसे देखो, मुझे जीतना नीचे खींचने की कोशिश करोगे, मैं उतनी ही मजबूती से वापसी करुंगी। दूती एशियान गेम्स में भी 2 सिल्वर मेडल जीत चुकी हैं। 

भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दूती को इस उपलब्धि पर बधाई दी है। राष्ट्रपति ने किया है, 'यूनिवर्सियाड' में 100 मीटर दौड़ की स्पर्धा जीतने पर दूती चंद को बधाई। इस प्रकार की स्पर्धा में यह भारत का पहला गोल्ड मेडल है और देश के लिए यह अपार गर्व का क्षण है। आप ऐसे प्रयास जारी रखें, और ओलंपिक में इससे भी बड़ी सफलता प्राप्त करें।

मोदी ने ट्वीट किया, एक असाधारण एथलीट की असाधारण उपलब्धि। महिलाओं की 100 मीटर फाइनल में कड़ी मेहनत करते हुए गोल्ड जीतने के लिए दूती चंद को बधाई। आपने भारत को गौरवांवित किया है।

कमेंट करें
XSOmQ