comScore

इथियोपिया हादसा: भारत, फ्रांस, जर्मनी ने भी लगाया बोइंग 737 मैक्स-8 पर बैन

March 13th, 2019 12:23 IST

हाईलाइट

  • इथियोपिया विमान हादसे के बाद कई देशों ने अपने एयरस्पेस में बोइंग 737 मैक्स-8 विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी है।
  • कई देशों के बैन के बाद अब यूरोपियन कंट्री जर्मनी और फ्रांस ने भी इस पर बैन लगा दिया है।
  • इस रोक के बाद बोइंग ने अपनी सफाई पेश की है।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। इथियोपिया में रविवार को हुए विमान हादसे के बाद कई देशों ने अपने एयरस्पेस में बोइंग 737 मैक्स-8 विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी है। चीन, सिंगापुर, आयरलैंड, इंडोनेशिया, मलेशिया, अर्जेंटिना, दक्षिण कोरिया, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया के बैन के बाद अब भारत, यूरोपियन कंट्री जर्मनी और फ्रांस भी इसमें शामिल हो गई है।यात्रियों की चिंताओं को देखते हुए ये कदम उठाया गया है। इस रोक के बाद बोइंग ने अपनी सफाई पेश की है।

बोइंग कंपनी की तरफ से जारी बयान में कहा गया है, सुरक्षा बोइंग की नंबर एक प्राथमिकता है और हमें 737 मैक्स की सुरक्षा पर पूरा भरोसा है। बोइंग ने कहा कि इथियोपियन एयरलाइंस के हादसे का गहरा दुख है। हम यात्रियों और चालक दल के परिवारों के लिए सहानुभूति व्यक्त करते हैं और इथियोपियाई एयरलाइंस टीम का समर्थन करने के लिए तैयार हैं।

भारत की एयरलाइन कंपनी स्पाइस जेट के पास 13 और जेट एयरवेज के पास भी 5 बोइंग 737 विमान है। डायरेक्टरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने तत्काल प्रभाव से इन विमानों पर बैन लगाने का फैसला लिया है। DGCA ने कहा कि इन विमानों पर तब तक बैन रहेगा जब तक कि विमानों के सुरक्षित संचालन को सुनिश्चित करने के लिए उपयुक्त संशोधन और सुरक्षा उपाय नहीं किए जाते। यात्री सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हम दुनिया भर के नियामकों, विमान निर्माताओं के साथ बातचीत कर रहे हैं। 

यूरोपियन एविएशन सेफ्टी एजेंसी ने कहा, एहतियात के तौर पर उड़ान पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा, दुर्घटना की जांच अभी जारी है, और दुर्घटना के कारणों के बारे में कोई निष्कर्ष निकालना जल्दबाजी होगी।

वहीं अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि विमान अभी भी उड़ान भरने के लिए सुरक्षित हैं। हालांकि अमेरिका की साउथवेस्ट एयरलाइंस जिसके पास सबसे ज्यादा बोइंग 737 मैक्स के विमान है यात्रियों को अपनी बुकिंग बदलने का मौका दे रहा है।

बता दें कि इथियोपियन एयरलाइंस के विमान हादसे में 4 भारतीयों समेत 157 लोगों की मौत हो गई थी। पांच महीने में यह दूसरा मौका है, जब बोइंग के इसी मॉडल का विमान क्रैश हुआ है। इससे पहले इंडोनेशियाई कंपनी लॉयन एयर का इसी मॉडल का नया विमान जकार्ता में अक्टूबर 2018 में क्रैश हुआ था। इसमें 189 लोगों की मौत हुई थी। 

 

Loading...
कमेंट करें
e6fOt
Loading...