comScore

मोदी के झूठ से दुखी हूं, उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए : मनमोहन सिंह

December 12th, 2017 14:06 IST
मोदी के झूठ से दुखी हूं, उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए : मनमोहन सिंह

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 में लगता है विकासवाद और भ्रष्टाचार के मुद्दे काफी पीछे छूट गए हैं। सत्ताधारी पार्टी और विपक्षी दल अन्य मुद्दों पर बात करते हुए चुनावी माहौल को अपने पक्ष में करने की जद्दोजहद करने लगे हैं। इसी क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तानी उच्चायुक्त के साथ डिनर को लेकर कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला था, वहीं पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने इस मामले पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि गुजरात में पीएम मोदी को अपनी हार नजर आने लगी है, इसलिए वे बौखला गए हैं।

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने एक बयान जारी कर पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री और उच्चायुक्त के साथ डिनर मीटिंग के दौरान गुजरात पर चर्चा से साफ तौर पर इनकार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राष्ट्रीयता सीखने की जरूरत नहीं है। पीएम मोदी के आरोपों से खुद को आहत बताते हुए मनमोहन सिंह ने कहा कि गुजरात में हार को देखकर मोदी बौखला गए हैं और राजनीतिक फायदा उठाने के लिए झूठ फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि पीएम के आरोपों से इस पद की गरिमा को जो ठेस लगी है, उसके लिए वो पूरे देश से माफी मांगें।


 

मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी की पाकिस्तान यात्रा का भी जिक्र किया और कहा, मैं पीएम नरेंद्र मोदी को याद दिला दूं कि आप ऊधमपुर और गुरदासपुर में आतंकवादी हमले के बाद बिना बुलाए पाकिस्तान गए थे। इस पर स्पष्टीकरण देना चाहिए। साथ ही उन्हें देश को यह भी बताना चाहिए कि आतंकवादी हमले की जांच के लिए पाकिस्तान की कुख्यात एजेंसी आईएसआई को पठानकोट एयरबेस में क्यों बुलाया गया था?


गौरतलतब है कि बीते गुरुवार को भारत-पाकिस्तान रिश्तों पर पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी, भारत के पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और मणिशंकर अय्यर आदि के बीच मीटिंग हुई थी। इसी गुप्त मीटिंग का जिक्र करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पार्टी पर सवाल उठाए थे। कांग्रेस ने रविवार को ऐसी किसी मीटिंग की बात से इनकार किया था। इसके 24 घंटों के भीतर ही कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को यूटर्न लेते हुए स्वीकार किया कि पाकिस्तानी उच्चायुक्त और अन्य लोगों के साथ मणिशंकर अय्यर के घर बैठक हुई थी।

कमेंट करें
leOkg