comScore
Dainik Bhaskar Hindi

कैम्ब्रिज एनालिटिका और FB पर डेटा चोरी करने का आरोप, CBI ने शुरू की जांच

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 13th, 2019 19:59 IST

1.5k
2
0
कैम्ब्रिज एनालिटिका और FB पर डेटा चोरी करने का आरोप, CBI ने शुरू की जांच

News Highlights

  • फेसबुक और कैम्ब्रिज एनालिटिका ने CBI को डेटालीक मामले में एक पत्र लिखा है।
  • फेसबुक और कैम्ब्रिज एनालिटिका ने CBI द्वारा मांगी गई सभी जानकारी का जवाब दिया है।
  • CBI ने पिछले साल फेसबुक और कैम्ब्रिज एनालिटिका के खिलाफ प्रारंभिक जांच शुरू की थी।


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। फेसबुक और कैम्ब्रिज एनालिटिका पर अवैध तरीके से डेटा लीक करने को लेकर चल रहे मामले पर इन दोनों कंपनियों की ओर से जवाब आया है। CBI सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार फेसबुक और कैम्ब्रिज एनालिटिका ने एक पत्र लिखकर CBI द्वारा मांगी गई सभी जानकारी का जवाब दिया है। बता दें कि CBI ने पिछले साल सितंबर में कथित तौर पर भारतीयों का अवैध तरीके से पर्सनल डेटाचोरी के लिए फेसबुक, कैम्ब्रिज एनालिटिका और ग्लोबल साइंस रिसर्च के खिलाफ प्रारंभिक जांच शुरू की थी। 

CBI के एक अधिकारी ने बताया, 'हमने इन तीनों सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म से जानकारी मांगी थी। अभी केवल फेसबुक और कैम्ब्रिज एनालिटिका की ओर से जवाब आया है। हमने इन कंपनियों को जो पत्र लिखा था उसमें हमने डेटा कलेक्शन के लिये अपनाए गए तरीके का ब्योरा मांगा था। कंपनियों की ओर से आए जवाब से हम संतुष्ट नहीं हैं और उनसे अधिक से अधिक जानकारी मांगी है।' 

बता दें कि कैम्ब्रिज एनालिटिका पर आरोप है कि उन्होंने ग्लोबल साइंस रिसर्च और फेसबुक के साथ मिलकर भारतीय लोगों के पर्सनल डेटा कलेक्ट करने के लिये अवैध साधनों का इस्तेमाल किया। फेसबुक के भारत में करीब 20 करोड़ से भी अधिक यूजर्स हैं। CBI अधिकारी ने बताया कि यह प्रारंभिक जांच इसलिए है, ताकि हम तय कर सकें कि इस मामले पर और तफ्तीश से जानकारी हासिल करने की जरूरत है या नहीं। इसके बाद हम इन तीनों कंपनियों पर कार्रवाई करने का सोचेंगे। केंद्रीय लॉ और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पिछले साल जुलाई में इस मामले CBI को सौंपा था। 

फेसबुक और कैम्ब्रिज एनालिटिका पर पहले भी कई आरोप लग चुके हैं। फेसबुक पिछले कई महीनों से हैकरों की नजर में रहा है। पिछले महीने आई एक रिपोर्ट में कहा गया था कि 12 करोड़ FB यूजर्स का डेटाचोरी किया गया और इसे इंटरनेट पर सेल के लिए भी रखा गया। इनमें से 81 हजार यूजर्स के प्राइवेट डेटा, फोटोज और मैसेजस को इंटरनेट पर पोस्ट भी किया गया था, जबकि कैम्ब्रिज एनालिटिका पर आरोप थे कि उसने 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप को जीतने में मदद करने के लिये 8.7 करोड़ फेसबुक एकाउंट से व्यक्तिगत जानकारी का इस्तेमाल किया। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download