comScore

कुत्ते की जान बचाने तेंदुए से भिड़ गया किसान, रेंजर ने कराया भर्ती

January 11th, 2019 14:48 IST
कुत्ते की जान बचाने तेंदुए से भिड़ गया किसान, रेंजर ने कराया भर्ती

डिजिटल डेस्क, सतना। यहां खेत की रखवाली कर रहा किसान अपने पालतू कुत्ते की जान बचाने तेंदुआ से भिड़ गया। किसान के आक्रामक तेवर देखकर तेंदुआ भाग  खड़ा हुआ किंतु इस संघर्ष में किसान को पैर में चोट आई है। मालिक को लड़ता देखकर कुत्ते ने भी तेंदुए को अपनी पेंतरेबाजी दिखा दी थी। घायल किसान को उपचारार्थ अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वन विभाग सूत्रों द्वारा बताया गया है कि उचेहरा रेंज अंतर्गत मड़फई गांव में बीती रात एक किसान तेंदुए के हमले से घायल हो गया। पैंथर ने उस वक्त रामाधार साकेत उम्र 40 वर्ष पर अटैक किया, जब वह फसल की रखवाली के लिए बैठा था, पास आग जल रही थी और उसका कुत्ता भी वहीं बैठा था। पैंथर दबे पांव करीब आया और कुत्ते को दबोचकर भागने लगा।  उतरकर रामाधार तेंदुए से भिड़ गया। हिंसक जीव ने कुत्ते को छोड़कर रामाधार पर अटैक कर दिया। उसके पैर में पैंथर के दांत फंस गए। इसी बीच कुत्ते ने भी तेंदुए पर वार करने का प्रयास किया। मौका लगते ही किसान जलती हुई लकड़ी उठाकर तेंदुए की तरफ दौड़ा और वह डरकर भाग निकला। किसान को वन मंडलाधिकारी के निर्देश पर उचेहरा रेंजर रमाशंकर त्रिपाठी द्वारा सीएचसी ले जाकर गुरुवार को उपचार कराया गया तथा नियमानुसार सहायता के लिए भी आश्वस्त किया। 

दी जा चुकी है चेतावनी
उचेहरा रेंज अंतर्गत धनिया-पनिहाई बीट में दो सप्ताह से टाइगर का मूवमेंट है। अमगार के जंगल में 2 दिन पहले किल भी किया था। इसी के मद्देनजर क्षेत्र के गांवों में वन विभाग द्वारा किसानों को रात के समय घरों से बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी गई थी। इसके बावजूद यह घटना हो गई। जंगल में टाइगर के आ जाने के कारण छोटे वन्य जीव इधर-उधर भाग रहे हैं। इस घटना की रिपोर्ट उचेहरा थाने में भी दर्ज कराई गई है।
 

कमेंट करें
gnAGF