comScore

किसान आत्महत्या मामला : परिजनों के हंगामे के बाद दर्ज हो सका भाजपा नेता पर केस

July 27th, 2017 14:58 IST
किसान आत्महत्या मामला : परिजनों के हंगामे के बाद दर्ज हो सका भाजपा नेता पर केस

दैनिक भास्कर न्यूज डेस्क, विदिशा। विदिशा के किसान मनीष भार्गव को प्रताड़ित कर आत्महत्या के लिए प्रेरित करने के मामले में भाजपा नेता और केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्याम सुन्दर शर्मा और मनोज शर्मा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। रविवार को भार्गव ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। सोमवार को परिजनों के हंगामे के बाद संबंधितों के खिलाफ धारा 306 गैर जमानती अपराध के तहत मामला दर्ज हो सका है। बता दें कि श्याम सुन्दर एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के करीबी माने जाते हैं।

सोमवार सुबह से परिजनों सहित अन्य लोगों ने शिकायत दर्ज नहीं करने पर सिविल लाइन्स थाने में जमकर हंगामा किया। गुस्साए लोगों ने नेशनल हाइवे पर भी चक्काजाम कर प्रदर्शन किया। आख़िरकार पुलिस को घटना के मुख्य आरोपी मनोज शर्मा और श्याम सुन्दर सहित कुल 6 लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का मामला दर्ज करना पड़ा। इसके बाद ही परिजन जिला अस्पताल पहुंचे और मरचुरी रूम में रविवार शाम से रखे शव को लेकर उसके दाह संस्कार के लिए लेकर गए।

मनीष के भाई जगदीश सहित अन्य परिजनों ने बताया कि रविवार की शाम पुलिस ने कहा था कि सोमवार की सुबह पीएम करेंगे, लेकिन बगैर परिजनों की उपस्थिति में शाम छह बजे के बाद मनीष का पोस्टमार्टम (पीएम) कर दिया गया। इससे नाराज परिजन अगली सुबह करीब पौने नौ बजे सिविल लाइन्स थाना पहुंचे और मनोज, श्यामसुन्दर सहित 6 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की, लेकिन पुलिस द्वारा संतोषजनक जवाब न मिलने पर लोगों का आक्रोश भड़क गया।

गौरतलब हो कि आरएमपी नगर फेस-1 निवासी 36 वर्षीय मनीष भार्गव ने रविवार को घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर छह पेज का सुसाइड नोट छोडा था, जिसमें मनोज शर्मा, श्याम सुंदर सहित छह लोगों द्वारा लाखों रुपए लेने के बावजूद प्लाट की रजिस्ट्री नहीं करने और रुपए वापस नहीं करने का आरोप लगाया था।

Loading...
कमेंट करें
leGqH
Loading...
loading...