comScore

धार में कर्ज से परेशान किसान ने की खुदकुशी, अब तक 12 किसानों की मौत

July 27th, 2017 16:14 IST
धार में कर्ज से परेशान किसान ने की खुदकुशी, अब तक 12 किसानों की मौत

टीम डिजिटल, धार. मप्र में किसानों की आत्महत्या का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा. धार जिले में शुक्रवार देर रात एक किसान ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली. 45 साल किसान नाथूलाल घिसाजी चोयल ने कर्ज से परेशान होकर ये कदम उठाया.


आपको बता दें,राज्य में अब तक 12 किसानों की आत्महत्या के मामले सामने आ चुके है. चना मिलते ही पुलिस ने मामले की जाँच शुरू की. किसान ने सहकारी बैंक से एक लाख रुपए का कर्ज भी ले रखा. जिससे वो चुका नहीं पा रहा था.

आपको बता दें, गुरूवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान के गृह क्षेत्र में कर्ज से परेशान 22 साल के एक किसान ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली थी. बुधनी विधानसभा के लाचोर गांव में रहने वाले किसान मुकेश की तीन महीने पहले ही शादी हुई थी. मुकेश के पास छह एकड़ खेत था. जिसपर 55 हजार रुपए बैंक का जबकि चार लाख साहू कारो का कर्ज था. 

सिंधिया ने लगाए शिवराज पर आरोप

राज्य में बढ़ती किसानों की आत्महत्याओं के मामले पर पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि, मप्र की शिवराज सरकार के हाथ खून से रंगे हुए हैं. राजधानी के टीटी नगर स्थित दशहरा मैदान में बुधवार से शुरू हुए कांग्रेस के 72 घंटे के सत्याग्रह के दूसरे दिन गुरुवार को ज्योतिरादित्य ने कहा, “मंदसौर में किसानों पर सरकार ने पुलिस से गोली चलवाई और छह किसानों की मौत हो गई, इस सरकार के हाथ खून से रंगे हुए हैं, मुख्यमंत्री चौहान को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए.”

किसानों की आत्महत्या के मामले शिवराज सरकार के उन दावों की पोल खोलती है जो 0 प्रतिशत ब्याज पर कर्ज देने का दावा करती है. अगर 0 प्रतिशत बयाज पर कर्ज मिल रहा है तो आज भी किसान सूदखोरों के जाल में क्यों फंसा हैं?

कमेंट करें
xI4Bv