comScore

कलेक्ट्रेट में किसान बोला- फांसी पर झूल जाऊंगा, DC ने तुरंत किया भुगतान

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 13th, 2018 21:47 IST

कलेक्ट्रेट में किसान बोला- फांसी पर झूल जाऊंगा, DC ने तुरंत किया भुगतान

डिजिटल डेस्क, नरसिंहपुर। अरसा पहले धान विक्रय कर चुके किसान ने पैसा न मिलने पर फांसी लगाने की खुली धमकी के बाद कल मंगलवार को कलेक्ट्रेट में हड़कंप मच गया। जनसुनवाई में कलेक्टर के समक्ष हाथ में फंदा लेकर पहुंचे किसान ने अपनी व्यथा सुनाई और दो टूक कहा कि आज यदि पैसा न मिला तो मैं फांसी लगा लूंगा।

यह संवेदनशील मामला मंगलवार को जनसुनवाई में सामने आया। यहां पहुंचे हिनौतिया निवासी अवनेश चौहान ने सीधे कलेक्टर की टेबिल की ओर रुख किया, हाथ में फांसी का फंदा और कागजात रखे, किसान ने धान विक्रय के कागजात पेश कर अब तक की गई शिकायतों का पुलिंदा पेश कर पैसा न मिलने की बात कही। उसकी बात सुनकर कलेक्टर समझाइश दे रहे थे, तभी किसान ने फंासी लगाने की बात कहते हुए सभी को सकते में डाल दिया। हतप्रभ प्रशासन ने आनन-फानन अधिकारियों को दौड़ाया, तब कहीं शाम तक किसान के खाते में राशि ट्रांसफर हो पाई।

दिसंबर में बेची थी धान
पीड़ित किसान अवनेश चौहान ने भास्कर को बताया कि दिसंबर माह में मार्केटिंग समिति के धान केन्द्र में दो किस्तों में धान का विक्रय किया था। इसकी राशि करीब एक लाख पचपन हजार थी, लंबे समय बाद भी इसकी राशि नहीं मिली। सीएम हेल्पलाइन सहित तमाम शिकायतों के बाद भी केवल आश्वासन मिलते रहे, लेकिन राशि नहीं मिली।

शाम को मिले पैसे
कलेक्टर के समक्ष साफ तौर पर फांसी लगाने की बात कहकर कलेक्ट्रेट से वापस लौटे कृषक के खाते में कल मंगलवार की शाम तक एक लाख चार सौ रुपये जमा हो गए थे जबकि उसे करीब 55 हजार रुपया मिलना अभी बाकी है। किसान ने यह भी बताया कि मेरे जैसे सैंकड़ों किसान हैं, जिन्होंने मार्केटिंग के इस केन्द्र पर धान बेची है, लेकिन उन्हें पैसे नहीं मिले। समिति के मैनेजर अरविंद शर्मा से जब भी संपर्क किया वे केवल भटकाते हैं, अंतत: किसानों को जीवन दांव पर लगाना पड़ रहा है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l