comScore
Dainik Bhaskar Hindi

#Kisan आंदोलन से एमपी बेहाल, ट्रेनें रूकी, हाईवे जाम, कहीं झड़प-कहीं आग

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 15:57 IST

370
0
0
#Kisan आंदोलन से एमपी बेहाल, ट्रेनें रूकी, हाईवे जाम, कहीं झड़प-कहीं आग

टीम डिजिटल,भोपाल. पूरे एमपी में किसानों का आंदोलन उग्र होता जा रहा है. मंदसौर, नीमच के बाद अब प्रदेश के बाकी जिलों में भी किसान सड़कों पर उतर आए हैं. देवास में किसानों ने जहां ट्रेनें रोकना शुरू कर दिया है तो वहीं महू में किसानों ने एबी रोड और मानपुर, सिमरोल से गुजरने वाले हाइवे को बंद करने की कोशिश की है.

एमपी में किसान आंदोलन का आज सातवां दिन है. आंदोलन के शुरुआती 5 दिन तो केवल सब्जियां की सप्लाई बंद रही लेकिन कल से किसान सड़कों पर उतर आए हैं. कहीं तोड़फोड़ तो कहीं आगजनी की घटनाएं सामने आ रही है. मंदसौर में पुलिस फायरिंग में 6 किसानों की मौत के बाद आंदोलन ने और उग्र रूप ले लिया है. किसान संगठनों के साथ ही कांग्रेस ने आज बुधवार एमपी बंद का आव्हान किया है.

ट्रेनें रोकी-सड़कों पर जाम :

बंद का असर पूरे प्रदेश में देखने को मिल रहा है. खरगोन, बड़वानी, सतना, शाजापुर, देवास, धार सहित कई जिलों में बंद का व्यापक असर रहा. खासकर मालवा-निमाड़ में किसानों ने उग्र प्रदर्शन किया. देवास में प्रदर्शनकारियों ने मक्सी-इंदौर ट्रेन को रोककर उसके कांच फोड़ दिए. नीमच-कोटा रोड पर डिकेन में किसानों ने जाम लगा दिया है. मोरवन-मनासा रोड पर किसानों ने चक्काजाम कर गाड़ि‍यों में रखा दूध सड़क पर फेंक दिया गया. नीचम के पास से निकलने वाले एनएच 71 पर भी किसानों ने जाम लगा दिया है. वहीं दो दिनों से मंदसौर में चली आ रही किसानों और प्रशासन की झड़पों के बाद आज मंदसौर हाइवे पर किसानों ने कई ट्रकों को आग के हवाले कर दिया.

कुछ जगहों पर बंद का असर ना के बराबर रहा. इसमें जबलपुर संभाग भी शामिल रहा. हालांकि यहां दुकानें बंद कराने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कई जगह तोड़-फोड़ की है. जिले में कई जगह दुकानों को जबरन बंद कराया गया है. पुलिस ने जबलपुर में कुछ कांग्रेस नेताओं को नजरबंद भी किया है. साथ ही चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात किया गया है.

कई नेता गिरफ्तार :

प्रशासन ने मंदसौर में घुसने की कोशिश कर रहे कई कांग्रेसियों को भी गिरफ्तार किया है. उधर भोपाल में सीएम शिवराज किसान आंदोलन पर अपने मंत्रियों के साथ चर्चा कर रहे हैं. मारे गए किसान के परिवार वालों को सीएम ने नौकरी देने का भी ऐलान किया है.

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर