comScore

बेटी की हत्या के आरोपी पिता की पुलिस कस्टडी में मौत , न्यायिक जांच के आदेश

बेटी की हत्या के आरोपी पिता की पुलिस कस्टडी में मौत , न्यायिक जांच के आदेश

डिजिटल डेस्क, सिवनी। छपारा थाने में पुलिस की कस्टडी में हत्या के संदेह में पकड़े गए एक व्यक्ति की शनिवार तड़के मौत हो गई। घटना को लेकर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। फिलहाल मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिए गए हैं। घटना छपारा थाना अंतर्गत जूनापानी गांव से जुड़ी है। इधर परिजनों का आरोप है कि पुलिस की प्रताड़ना से यह घटना हुई है और इसे तोड़मरोड़कर पेश किया जा रहा है।
 

ये है मामला
जूनापानी निवासी निवासी सुरेश सनोड़िया(48) को छपारा पुलिस ने उसकी बेटी की हत्या के शक में संदेह के आधार पर शुक्रवार को पकड़ा था। उससे थाना भवन के उपर बने कमरे में पूछताछ की जा रही थी। इसी बीच वह मौका पाकर छत से कूद गया। सिर में चोट लगने से उसे छपारा अस्पताल के बाद जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां शनिवार तड़के उसकी मौत हो गई।
 

बेटी की हत्या को लेकर शक
जानकारी के अनुसार सुरेश सनोड़िया की बेटी प्रियंका सनोड़िया की एक जुलाई को संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई थी। पुलिस ने पीएम रिपोर्ट के आधार पर हत्या का केस दर्ज किया था। जांच पड़ताल में जुटी पुलिस तीन संदेहियों से पूछताछ कर रही है। पुलिस को शक था कि प्रियंका के पिता सुरेश सनोड़िया ने इस घटना को अंजाम दिया होगा।पुलिस उसकी काफी तलाश करती रही लेकिन उसका पता नहीं चल पा रहा था। पुलिस का शक और भी बढ़ गया। तब मुखबिर की सूचना पर उसे सिवनी से पकड़ा गया था।
 

कमरों की सुरक्षा पर सवाल
छपारा थाने में पुलिस जिस जगह पर पूछताछ कर ही थी उस जगह को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। जानकारी के अनुसार एक एएसआई, एक हवलदार और एक आरक्षक उससे पूछताछ कर रहे थे। पुलिस का कहना है कि रात में करीब 12 बजे बिजली गुल हो गई तभी अंधेरे का फायदा उठाकर सुरेश भागने लगा और उसके पकडऩे की कोशिश की गई लेकिन वह छत से कूद गया था।वहीं परिजनों का आारोप है कि पुलिस की मारपीट में मौत हुई है और उसे घटना का रूप दिया जा रहा है।
 

हरकत में आए पुलिस अधिकारी
घटना की जानकारी मिलते ही रात में ही पुलिस अधिकारी घटना स्थल और जिला अस्पताल पर पहुंच गए। हालांकि पुलिस सुरेश की मृत्युपूर्व बयान नहीं ले पाई। पुलिस थाने के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। बताया गया कि पुलिस जिन लोगों से पूछताछ कर रही थी वे मृतिका प्रियंका के चाचा, गांव के एक युवक और एक अन्य युवक था। लगातार पूछताछ करने के बाद भी कोई ठोस नतीजे पर नहीं पहुंचने के बाद पुलिस ने शक होने पर प्रियंका के पिता सुरेश सनोडिय़ा को तलाशने की कोशिश में जुट गई थी।
 

इनका कहना है
हत्या के संदेह में सुरेश सनोडिय़ों को पकड़ा गया था। पूछताछ के दौरान वह थाने की छत से कूद गया था। उसे घायल अवस्था में भर्ती कराया गया लेकिन उसकी मौत हो गई। मामले की न्यायायिक जांच की जा रही है। कुमार प्रतीक, एसपी, सिवनी
 

कमेंट करें
Tjm8P