comScore

इंडोनेशिया में युवा इंजीनियर बेटे की मौत, बुजुर्ग पिता ने विदेश मंत्री से बॉडी लाने लगाई गुहार

January 02nd, 2019 17:00 IST
इंडोनेशिया में युवा इंजीनियर बेटे की मौत, बुजुर्ग पिता ने विदेश मंत्री से बॉडी लाने लगाई गुहार

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा। शहर के विशुनगर निवासी बुजुर्ग परसराम डेहरिया ने अपने इंजीनियर बेटे अजय डेहरिया (48) के इंडोनेशिया में हादसे में निधन के बाद बॉडी लाने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से गुहार लगाई है। परिजन शिकारपुर में मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी मिले और मदद मांगी। इंडोनेशिया के तिमूर में निजी कंपनी पीटी मेसरा कोल पेरू महान में माइनिंग इंजीनियर अजय डेहरिया की मृत्यु 31 दिसंबर की सुबह सड़क दुर्घटना में हुई है। नए वर्ष पर इंडोनेशिया में अवकाश होने की वजह से मृतक का शरीर भारत लाने को लेकर कार्रवाई नहीं हो सकी। बताया जा रहा है कि कार्रवाई में समय भी लग सकता है। जिससे आहत परिवार चिंता में पड़ गया है।

परिवार में माता-पिता, पत्नी और दो बच्चे
इंडोनेशिया में मृत माइनिंग इंजीनियर अजय डेहरिया का पूरा परिवार विशु नगर छिंदवाड़ा में ही रहता है। जबकि वे अकेले ही इंडोनेशिया में ही रहकर जॉब कर रहे थे। पिता रिटायर पर्सन हैं, जबकि पत्नी श्रीमती वैशाली डेहरिया सोशल वर्कर है। बेटी रसिया में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही है। बेटा नागपुर  के आर्मी स्कूल में पढ़ रहा है। बेटे को छिंदवाड़ा लाया गया है। बेटी भी रसिया से रवाना हो गई है। अब मृतक अजय की बॉडी के छिंदवाड़ा पहुंचने का इंतजार है। 

पानी में समा गई कार, साथी पटना निवासी इंजीनियर की भी मौत
परिजनों से मिली जानकारी के मुताबिक 31 दिसंबर की सुबह अजय अपने साथी चार अन्य इंजीनियरों के साथ कार में सवार होकर एरिया ऑफिस से कंपनी के हेडक्वार्टर जाने के लिए निकले थे। अजय खुद ही ड्राइव कर रहे थे। बगल की सीट में पटना निवासी इंजीनियर साथी बैठा हुआ था। बारिश और चिकनी मिट्टी की वजह से उनकी कार अनियंत्रित हो गई और खाई में उतरते हुए पानी में समा गई। अजय व बगल में बैठे साथी ने सीट बेल्ट लगा रखा था, जिससे वे निकल नहीं पाए। जबकि पीछे बैठे तीन साथियों की जान बच गई। 

विदेश मंत्रालय के डिप्टी सेक्रेटरी ने मांगी जानकारी
डेहरिया समाज के अध्यक्ष इंजीनियर शिवनारायण डेहरिया ने बताया कि मंगलवार को उन्होंने विदेश मंत्रालय के डिप्टी सेक्रेटरी आफ्ता वालम से टेलीफोन पर चर्चा की और स्थिति से अवगत कराया। जिस पर डिप्टी सेक्रेटरी ने मृतक अजय से संबंधित जानकारी जाकार्ता और दिल्ली के पते पर ई-मेल के जरिए मांगी है। डिप्टी सेक्रेटरी ने मृतक का शरीर लाने में मदद का आश्वासन दिया है। 

पत्नी से कहा था, 16 जनवरी को एक माह के अवकाश पर आउंगा
माइनिंग इंजीनियर अजय डेहरिया इसी माह 16 जनवरी को इंडोनेशिया से यहां आने वाले थे। कंपनी से एक माह का अवकाश उन्होंने ले रखा था। वे अवकाश अवधि का पूरा वक्त परिवार के साथ गुजारने वाले थे। वे आते इससे पहले ही परिवार को दुखद खबर आ गई। पत्नी वैशाली डेहरिया, पिता और मां सहित परिजनों के आंसू थम नहीं रहे हैं। 
 

Loading...
कमेंट करें
ydDXS
Loading...
loading...