comScore

घरेलू कंपनियों के वित्तीय नतीजों से शेयर बाजार को मिलेगी दिशा

October 20th, 2019 12:44 IST
घरेलू कंपनियों के वित्तीय नतीजों से शेयर बाजार को मिलेगी दिशा

हाईलाइट

  • घरेलू कंपनियों के वित्तीय नतीजों से शेयर बाजार को मिलेगी दिशा

डिजिटल डेस्क, मुंबई। दिवाली से पहले इस सप्ताह घरेलू शेयर बाजार की रौनक बरकरार रखने में घरेलू कंपनियों के वित्तीय नतीजों की अहम भूमिका रहेगी। वहीं, बाजार की नजर हरियाणा और महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव पर भी रहेगी। इसके अलावा, अंतर्राष्ट्रीय बाजार से मिलने वाले संकेतों का भी भारतीय शेयर बाजार में असर देखने को मिलेगा। घरेलू शेयर बाजार में पिछले सप्ताह तेजी का माहौल बना रहा, जिसे आगामी कारोबारी सप्ताह के दौरान जारी रखने में प्रमुख कंपनियों के वित्तीय नतीजों से सपोर्ट मिल सकता है।

पिछले सप्ताह शुक्रवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज यानी आरआईएल ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के अपने वित्तीय नतीजें जारी किए जिसमें कंपनी को पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 18 फीसदी से ज्यादा का मुनाफा हुआ है। इसके बाद शनिवार को एचडीएफसी बैंक द्वारा जारी दूसरी तिमाही के वित्तीय नतीजों के अनुसार बैंक को 26.8 फीसदी का मुनाफा हुआ।

वहीं, अगले सप्ताह सोमवार को भारती इन्फ्राटेल, हिंदुस्तान जिंक और अल्ट्राटेक सीमेंट के वित्तीय नतीजे जारी होंगे। हालांकि सोमवार को महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होने के कारण देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में शेयर बाजार में अवकाश रहेगा और नियमित कारोबार अगले दिन मंगलवार को ही शुरू होगा, जब एक्सिस बैंक, एशियन पेंट्स, बजाज फाइनेंस, कोटक महिंद्रा बैंक द्वारा दूसरी तिमाही के नतीजे जारी किए जाएंगे।

इसके बाद हीरो मोटोकॉर्प, लार्सन टूब्रो के वित्तीय नतीजे बुधवार को जारी होंगे। अगले दिन गुरुवार को देश की प्रमुख कंपनी आईटीसी और मारुति सुजुकी इंडिया अपने तिमाही नतीजे जारी करेंगी। इसी दिन हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के साथ-साथ देश के अन्य हिस्सों में हो रहे उपचुनावों के परिणाम भी जारी होंगे, जिसका बाजार को इंतजार रहेगा। सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को भारतीय स्टेट बैंक द्वारा चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के वित्तीय नतीजे जारी किए जाएंगे।

घरेलू शेयर बाजार की चाल तय करने में अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव, डॉलर के मुकाबले रुपये की स्थिति, के आलावा, दिवाली से पहले विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों और घरेलू संस्थागत निवेशकों के निवेश के प्रति रुझानों की अहम भूमिका होगी।विदेशी मोर्चे की बात करें तो बुधवार को यूरोपीय सेंट्रल बैंक गुरुवार को ब्याज दर को लेकर अपने फैसलों की घोषणा कर सकता है। वहीं, अमेरिका में अक्टूबर के लिए मार्किट मैन्यूफैक्च रिंग और सर्विस पीएमआई के आंकड़े जारी होंगे, जिससे बाजार को दिशा मिलेगी।

कमेंट करें
2kva9